शनिवार को कोरोना महामारी के प्रकोप के बाद से दुनिया भर में छह लाख से अधिक मामले आधिकारिक तौर पर दर्ज किए गए हैं। दुनिया के 183 देशों में इस वायरस की वजह से होने वाली मौतों की संख्या 30 हजार से अधिक हो चुकी है। मृतकों में से दो तिहाई से अधिक संख्या अकेले यूरोप के रहने वाले लोगों की है। वहीं, अमेरिका में कोरोना के मामलों की संख्या एक लाख चार हजार 837 से अधिक हो चुकी है, जिनमें से करीब 2,000 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बावजूद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप न्यूयॉर्क में लॉक डाउन करने के पक्ष में नहीं हैं। उधर, अमेरिकी जेल में एक फेडरल कैदी और दुर्लभ मामले में एक नवजात बच्चे की मौत हो गई है।

वहीं, ईरान मे कोरोना से मरने वालों की संख्या 2,517 हो चुकी है, जबकि 35 हजार 408 लोगों में इसका संक्रमण पाया गया है। भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या करीब एक हजार के पास पहुंच चुकी है, जबकि करीब 25 लोगों की मौत हो चुकी है। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने साफ कर दिया है कि कोरोना के संक्रमण वाले लोगों को ट्रेन और फ्लाइट में सफर नहीं करने दिया जाएगा।

इटली में सबसे ज्यादा 10 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं और कुल 86,498 मामले सामने आ चुके हैं। बताते चलें कि इस वायरस के प्रकोप से चीन में 81,394 मामले सामने आए थे, जबकि 3,295 लोगों की मौतें हुईं। शनिवार को COVID-19 के कारण स्पेन में 832 मौतों के साथ वायरस की वजह से होने वाली कुल मौतों की संख्या 5,600 के पार पहुंच गई। इस महामारी की वजह से ईरान में 139 और मौतों के साथ मृतकों का कुल आधिकारिक आंकड़ा 2,500 के पार पहुंच चुका है।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, ब्रिटेन में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की संख्या 1,019 से ज्यादा हो चुकी है, जबकि शनिवार को सबसे ज्यादा एक दिन में 260 मौतें हुईं। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं और उन्होंने क्वारेंटाइन में रहते हुए ब्रिटेन के लोगों से घरों में रहने की अपील की है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों में बताया गया है कि शुक्रवार शाम 5:00 बजे (1700 GMT), मृत्यु टोल 1,019 थी, गुरुवार को उसी समय 759 थी।

शनिवार को सुबह 9:00 बजे तक ब्रिटेन में कुल एक लाख 20,776 लोगों का परीक्षण किया गया था, जिनमें से 17,089 कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। पीएम बोरिस जॉनसन के साथ ही उनके स्वास्थ्य मंत्री, मैट हैनकॉक को भी शुक्रवार को वायरस से संक्रमित पाया गया। हालांकि, दोनों ही नेताओं में केवल हल्के लक्षण दिखे थे। उनके कैबिनेट सहयोगी, स्कॉटिश सचिव एलिस्टर जैक ने शनिवार को बताया कि उन्हें भी हल्के लक्षण देखने को मिले थे और अलगाव में रह रहे हैं, लेकिन अभी उनका परीक्षण नहीं किया गया था।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस