भारत की तरह पाकिस्तान भी तबलीगी जमातियों (Tablighi Jamaat) से परेशान है। जमाती खुद CoronaVirus से पीड़ित हो गए हैं और दूसरों के लिए भी खतरा बन गए हैं। पाकिस्तान ने उनके मुख्यालय वाले शहर रायविंड को पूरी तरह से LockDown कर दिया है। यहां तक कि मेडिकल स्टोर भी बंद करा दिए हैं। ऐसी सभी सुविधाओं को रोक दिया गया है जिनके लिए लोग घर से बाहर निकलते हों। शहर से बाहर जाने और आने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। ऐसा 41 तबलीगी प्रचारकों के CoronaVirus से बीमार होने के चलते किया गया है।

CoronaVirus से ग्रस्त होने के शक में जमात के 50 सदस्यों को लाहौर से 50 किलोमीटर दूर कसूर में क्वारंटाइन किया गया है। CoronaVirus के संदिग्ध मरीजों में नाइजीरिया की 5 महिलाएं भी शामिल हैं। पता चला है कि सिंध प्रांत के हैदराबाद शहर में तबलीगी जमात के सदस्यों के संपर्क में आने से 38 लोग CoronaVirus से संक्रमित हो गए हैं। सिंध और पंजाब प्रांतों में पुलिस ने जमात के कई सदस्यों को मस्जिदों और जमात के मुख्यालय रायविंड मरकज से गिरफ्तार कर हवालात में डाल दिया है। इन पर लॉकडाउन तोड़ने का आरोप है।

सरकारी सूत्रों के अनुसार मार्च में Tablighi Jamaat ने प्रशासन की रोक की सलाह के बावजूद रायविंड (लाहौर) में अपना 5 दिन का सालाना जलसा किया। इसमें शामिल होने के लिए हजारों की संख्या में देश-विदेश के लोग आए थे। कहा जा रहा है कि यहां से लौटने वालों ने ही बड़ी संख्या में लोगों में CoronaVirus फैलाया। लाहौर के डिप्टी कमिश्नर दानिश अफजल के अनुसार प्रशासन की आशंका सही निकली। कई Tablighi Jamaat कोरोना वायरस से ग्रस्त पाए गए और वे इसे दूसरों में पहुंचा रहे थे। रायविंड स्थित Tablighi Jamaat में अभी भी करीब 600 प्रचारक मौजूद हैं। इनमें से 110 लोगों के कोरोना परीक्षण कराए गए, 41 कोरोना ग्रस्त मिले।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस