बैंकॅाक। कहा जाता है कि श्वान एक वफादार जानवर होता है। जो सूघंकर खतरे को और वस्तुओं को पहचान लेता है। ऐसा ही एक मामला पूर्वोत्तर थाइलैंड में सामने आया है। यहां एक खेत में दबे नवजात को श्वान की मदद से सकुशल बाहर निकाल लिया गया। बाहर निकालने के बाद उसे चिकित्सालय ले जाया गया।

इस मामले में जब अथॅारिटीज़ ने पूछताछ की तो जानकारी सामने आई कि एक किशोरी ने लोगों के डर से नवजात को जिंदा गाड़ दिया था। अब उसे नवजात को जमीन में गाड़ने का पछतावा है। मगर उस पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया गया है। दूसरी ओर लड़की के परिवार ने बच्चे देखभाल की बात कही है।

मिली जानकारी के अनुसार जब चाम फुआंग जिले के नोंग खाम गांव के लोग जब खेतों में काम कर रहे थे उसी दौरान एक श्वान वहां पहुंचा और अपने पैरों से जमीन कुरेदने लगा। श्वान का नाम पिंग पोंग बताया गया है। यह चलने में पूरी तरह से समर्थ नहीं है। कुत्ते के मालिक के मुताबिक एक जगह पर पहुंचकर वह रुक गया और वहां पर अपने पैरों से खुदाई करने लगा। कुछ देर बाद वहां पर एक बच्चे का पैर बाहर निकला। इससे हरकत में आए लोगों ने नवजात को सकुशल बाहर निकाल लिया।

Posted By: Lav Gadkari