Donald Trump India Visit : भारत के दौरे पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के साथ उनकी पत्नी मेलेनिया भी आ रही हैं। मंगलवार को वह दिल्ली के स्कूल का दौरा करेंगी, जहां वह हैप्पीनेस करिकुलम के बारे में जानकारी हासिल करेंगी। हालांकि, इस कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया मौजूद नहीं रहेंगे। उनके नाम अतिथि सूची से हटा दिए गए थे।

अब अमेरिकी दूतावास ने कहा कि उसे दिल्ली के सरकारी स्कूल में अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप की यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की मौजूदगी को लेकर कोई आपत्ति नहीं है। मगर, दूतावास ने इस बात को 'समझने को लेकर भी सराहना की कि यह कोई राजनीतिक समारोह नहीं है'।

बताते चलें कि इससे पहले दिल्ली सरकार के सूत्रों ने शनिवार को कहा था कि मेलानिया ट्रंप के मंगलवार को सरकारी स्कूल के दौरे के समय केजरीवाल और सिसोदिया मौजूद नहीं रहेंगे क्योंकि कार्यक्रम के लिए अतिथि सूची से उनके नाम हटा दिए गए हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया के 'हैप्पीनेस करिकुलम' देखने के लिए स्कूल जाने और वहां छात्रों से संवाद करने का कार्यक्रम है।

दरअसल, दिल्ली सरकार ने जुलाई 2018 में हैप्पीनेस करिकुलम की शुरुआत की थी। इसके जरिये दिल्ली सरकार के स्कूलों में कक्षा एक से आठ में पढ़ने वाले छात्रों की रोजना 45 मिनट की हैप्पीनेस क्लास होती है, जिसमें कथा-कहानी, ध्यान और सवाल-जवाब सत्र होता है। इसी तरह, नर्सरी और केजी के छात्र-छात्राओं के लिए हफ्ते में दो बार कक्षाएं होती हैं। बताया जाता है कि इसकी वजह से स्कूल में आने वाले छात्रों की संख्या भी बढ़ी है और उनकी पढ़ाई में भी सुधार हुआ है। इसी को देखने के लिए मेलेनिया स्कूल का दौरा करने आ रही हैं।

इससे पहले उपमुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा कि दिल्ली सरकार को मेलेनिया के एक सरकारी स्कूल के दौरे के लिए अनुरोध मिला था। उन्होंने कहा कि अगर वह सरकारी स्कूल आना चाहती हैं तो उनका स्वागत है। आयोजन से दोनों नेताओं के नाम हटाए जाने पर नाराजगी जताते हुए आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के इशारे पर ऐसा किया गया है।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai