France-Pakistan Tension: फ्रांस सरकार ने अपने सभी नागरिकों पाकिस्तान छोड़ने को कहा है। पाक में रहने वाले फ्रांसीसी नागरिक और कंपनियों को सलाह दी है कि उन्हें अस्थायी तौर पर वहां से निकलना है। बीते दिनों पाकिस्तान में फ्रांस विरोधी हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं। पाक में हिंसा बेहद चरम पर पहुंच गई है। दर्जनों पुलिसकर्मी इस हिंसा में गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

मोहम्मद साहब के कार्टून को लेकर विवाद

फ्रांस दूतावास ने एक ईमेल के जरिए कहा कि उनके ऊपर गंभीर खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में पाकिस्तान में रहने वाले फ्रांसीसी नागरिक जल्द ही दूसरे देश के लिए रवाना होना होगा। देश छोड़ने के लिए कमर्शियल एयरलाइन्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। बता दें फ्रांस की मैगजीन चार्ली हेब्दो में प्रकाशित मोहम्मद साहब के कार्टून को लेकर पाक के कट्टरपंथी बेहद नाराज हैं। तहरीक-ए-लब्बैक संगठन ने फ्रांसीसी राजदूत को देश से निकालने की मांग कर रहे हैं। यहां तक की लाखों की संख्या में लोग सड़कों पर उतर आए हैं। गौरतलब है कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने इस्लामिक आतंकवाद पर बयान दिया था। जिसे लेकर भी पाकिस्तानी संसद में निंदा प्रस्ताव पारित हुआ है।

साद रिजवी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

तहरीक-ए-लब्बैक संगठन के प्रमुख साद रिजवी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पाक के कई शहरों में रिजवी की रिहाई को लेकर लोग सड़कों पर उतर कर विरोध कर रहे हैं। तहरीक-ए-लब्बैक संगठन ने इमरान सरकार पर फ्रांस के सामान के बहिष्कार और ईशनिंदा कानून को रद्द करने के लिए लगातार दबाव बना रही है।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags