अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund) के पहले डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर ज्योफ्रे ओकामोटो (Geoffrey Okamoto) अगले साल अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। उनकी जगह इस पद को प्रमुथ अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ (Gita Gopinath) 21 जनवरी 2022 से संभालेंगी। आईएमएफ (IMF) ने गुरुवार को इसकी जानकारी दीं। बता दें गीता गोपीनाथ के रिसर्च पेपर्स कई इकोनॉमिक्स जर्नल्स में पब्लिश हो चुके हैं। वह हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में अर्थशास्त्र विभाग में प्रोफेसर भी रह चुकी हैं।

ज्योफ्रे ओकामोटो छोड़ेंगे पद

आईएमएफ ने कहा कि पहले डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर ज्योफ्रे ओकामोटो अगले साल की शुरुआत में फंड से हट जाएंगे। उनकी जगह चीफ इकोनामिस्ट गीता गोपीनाथ लेंगी। हालांकि इससे पहले अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के मैनेजिंग डायरेक्टर क्रिस्टैलिना जियोर्जिवा ने कहा था कि गीता जनवरी 2022 में अपना पद छोड़ना चाहती हैं। वह वापस हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के इकोनॉमिक्स विभाग में लौटना चाहती हैं। विश्वविद्यालय ने फिर उनकी छुट्टियां एक साल के लिए बढ़ा दी थीं। इस कारण वह आईएमएफ में तीन साल से चीफ इकोनॉमिस्ट के पद पर अपनी सेवाएं दे रही हैं।

गोपीनाथ के पैंडेमिक पेपर का योगदान

बता दें कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने गीता गोपीनाथ द्वारा किए गए कार्य की चर्चा की। कहा कि उन्होंने कई महत्वपूर्ण योगदान दिए हैं। आईएमएफ ने कहा, 'गीता ने पैंडेमिक पेपर में योगदान किया।' जिसमें जिक्र है कि कोरोना वायरस महामारी को कैसे खत्म किया जा सकता है। इसी के आधार पर विश्व में वैक्सीनेशन का टारगेट तय किया गया। रिसर्च पेपर्स के आधार पर विश्व बैंक, आईएमएफ, डब्ल्यूटीओ और विश्व स्वास्थ्य संगठन के नेतृत्व में मल्टीलेटरल टास्क फोर्स तैयार की गई। इस टास्क फोर्स का कार्य कोविड-19 का अंत और वैक्सीन निर्माताओं के साथ एक कार्यकारी समूह का गठन करना था, जो छोटे देशों में वैक्सीन की डिलिवरी तेज कर पाएं।

भारत से खास नाता

गीता गोपीनाथ का जन्म भारत के मैसूर शहर में हुआ था। उनके पिता टी.वी. गोपीनाथ केरल के कन्नूर जिले के किसान और उद्यमी हैं। गीता ने 1992 में दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज से अर्थशास्त्र में ग्रेजुएशन किया। फिर दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से अर्थशास्त्र में मास्टर की पढ़ाई की। बाद में वह वाशिंगटन यूनिवर्सिटी चली गई। जहां उन्होंने प्रिंसटन विश्वविद्यालय में पीएचडी की।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close