मल्टीमीडिया डेस्क। गूगल ने शनिवार को फारसी कवि, गणितज्ञ, दार्शनिक और खगोलशास्त्री उमर खैय्याम को उनके जन्मदिन पर डूडल बनाकर याद किया। उनका जन्म 18 मई 1048 को उत्तर पूर्वी ईरान के निशापुर में हुआ था। उनका निधन 04 दिसंबर 1131 को होने के बाद उन्हें खैय्याम गार्डन में दफनाया गया।

आज उनका 971वां जन्मदिन है। खैय्याम ने कई उल्लेखनीय गणित और विज्ञान की खोज की। वह पहले ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्होंने घन समीकरण को हल करने के लिए सामान्य तरीका निकाला।

उन्होंने कोण के विच्छेदन से जुड़ी ज्यामितिय हल भी उपलब्ध कराया। उनकी दूसरी बड़ी उपलब्धि जलाली कैलेंडर भी है, जो सोलर कैलेंडर था। बाद में इसके आधार पर कई कैलेंडर बने। उमर खैय्याम अपनी कविताओं और छंदों के लिए भी मशहूर थे। उन्होंने हजारों रूबाइयां या छंद लिखे।

उमर खैय्याम अपनी कविताओं के लिए भी मशहूर रहे हैं। उन्होंने एक हजार से अधिक रुबाइयतें या आयते लिखीं थीं। खैय्याम की रूबाइयत के एक हिस्से को एडवर्ड फिट्जल्ड ने अनुवाद किया, जो उनकी मौत के बाद पश्चिमी देशों में काफी लोकप्रिय हुआ।

इतना ही नहीं खोरासान प्रांत के मलिक शाह प्रथम के सलाहकार और दरबार के खगोलशास्त्री के रूप में भी खैय्याम ने काम किया। उन्होंने बीजगणित में भी बड़ा योगदान दिया।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020