अमेरिका में 67 साल में पहली बार किसी महिला को मौत की सजा होगी। लीजा मोंटगोमरी (Lisa Montgomery) नामक महिला को सजा देने के लिए सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है। लीजा को इंडियाना के तेर्रे हाउते के सेंट्रल जेल में सजा दी जाएगी। इससे पहले अदालत ने मोंटागोमरी की मौत की सजा पर रोक लागाने संबंध याचिका को खारिज कर दिया। जिसके बाद उसके सजा दिए जाने का रास्ता साफ हो गया। लीजा मोंटगोमरी पर एक गर्भवती महिला की हत्या व उसके गर्भाशय काटकर बच्चा चुराने का आरोप है।

ऐसे दिया था घटना को अंजाम

लीजा मोंटगोमरी 16 दिसंबर 2004 को कंसास स्थित अपने फार्महाउस से दूर मिसौरी के स्किडमोर गई थी। जहां उसने कुत्ता पालने वाली 23 वर्षीय बॉबी जो स्टिनेट (Bobbie Jo Stinnet) से मुलाकात की। इसके बाद लीजा ने रस्सी से स्टिनेट की गला दबाकर हत्या कर दी। आरोपी महिला ने फिर चाकू से बॉबी के पेट काटकर उसके अजन्मे बच्चे को लेकर फरार हो गई। घटना के अगले दिन लीजा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और उससे गर्भ से निकाले गए बच्चे को मुक्त करा लिया। लंबी सुनवाई के बाद कोर्ट ने 2007 में उसे मौत की सजा सुनाई थी।

16 साल की हुई बच्ची

लीजा मोंटगोमरी ने जिस बच्चे को गर्भ से चुराया था उसका नाम विक्टोरिया है। वह 16 साल की हो गई है। वहीं बता दें अमेरिका में 67 साल पहले 1953 में महिला कैदी को मौत की सजा हुई थी।

जो बाइडन सजा के खिलाफ

अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन सजा के खिलाफ है। डोनाल्ड ट्रंप की सरकार पर आरोप लग रहे है कि वह मौत की सजा को गैरकानूनी ढ़ंग से आगे बढ़ा रहे हैं। ट्रंप प्रशासन चाहता है महिला को बाइडेन के कार्यकाल में मिले।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Makar Sankranti
Makar Sankranti