World News : यमन के हूती विद्रोहियों ने संयुक्त अरब अमीरात (UAE) पर बड़ा हमला किया है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक सोमवार सुबह सबसे पहले मुसाफ्फा इलाके में 3 तेल टैंकरों में विस्फोट हुआ। इसके बाद अबू धाबी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Abu Dhabi International Airport) के नए निर्माण स्थल पर आग लग गई। वैसे इससे एयरपोर्ट को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा है। इस हमले में 2 भारतीयों समेत 3 लोगों की मौत हुई है, जबकि 6 लोग जख्मी हुए हैं। पुलिस के मुताबिक ड्रोन हमले (Drone Attack) की वजह से आग लगी। दोनों ही जगहों पर आग को नियंत्रित कर लिया गया है और बड़ा नुकसान नहीं हुआ है। उधर हूती विद्रोहियों ने खुद हमले की बात स्वीकार की है। हूती संगठन से जुड़े एक ट्विटर पोस्ट के अनुसार, हूतियों ने ‘आने वाले घंटों में संयुक्त अरब अमीरात में बड़ा सैन्य अभियान’ चलाने की योजना बनाई है।

क्यों हमला कर रहे हैं हूती विद्रोही?

दरअसल यमन के बडे़ हिस्से पर हूती विद्रोहियों ने कब्जा कर रखा है। यहां अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त सरकार की बहाली के लिए सऊदी अरब के नेतृत्व वाला सैन्य गठबंधन हूतियों के खिलाफ लड़ रहा है। यमन के इस गृहयुद्ध में सऊदी गठबंधन के साथ साल 2015 में UAE भी शामिल हो गया था। इस वजह से हूती अब यूएई को निशाना बना रहे हैं। उसने 2 जनवरी को यूएई के रवाबी नाम के मालवाहक जहाज को भी अपने कब्जे में ले लिया था और जिसपर सवार 11 लोगों को बंदी बना लिया था।

इससे पहले हूती विद्रोहियों ने इसी तरह के हमले सऊदी अरब पर भी किए हैं। सऊदी अरब में तेल से जुड़े सुविधा केंद्रों और कई शहरों पर हूतियों ने मिसाइल दागी हैं।

Posted By: Shailendra Kumar