वॉशिंगटन। अमेरिका में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की बड़ी फजीहत हुई है। तीन दिनी अमेरिका दौरे के लिए रविवार को वॉशिंगटन पहुंचे इमरान के स्वागत के लिए ट्रंप प्रशासन का कोई मंत्री तो दूर, कोई अधिकारी तक एयरपोर्ट नहीं पहुंचा था। पहले से ही अमेरिका में मौजूद पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और राजदूत असद मजीद खान ने इमरान का स्वागत किया। बेइज्जती की हद तो तब हो गई है, जब इमरान खान को अपने ही अधिकारियों के साथ मेट्रो की यात्रा कर अपने राजदूत के आवास तक जाना पड़ा। मेट्रो में भी इनके साथ कोई अमेरिकी अधिकारी नहीं था। इमरान किसी होटल के बजाय अपने राजदूत के यहां ही ठहरे हैं। वह विशेष विमान के बजाय कतर एयरवेज की सामान्य उड़ान से यहां पहुंचे थे।

इस बीच, अमेरिका में इमरान का विरोध भी शुरू हो गया है। इमरान खान के अमेरिकी दौरे को लेकर बलोच, सिंधी और मोहाजिर समेत पाकिस्तान के कई धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय विरोध प्रदर्शन भी कर रहे हैं। इन समुदायों ने व्हाइट हाउस और कैपिटल हिल एरेना के सामने भी विरोध करने की योजना बनाई है। दरअसल पाकिस्तानी सरकार पर हमेशा से ही बलोच और सिंधी समाज के खिलाफ अत्याचार करने के आरोप लगते रहे हैं।

यह है प्रोग्राम

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close