दुबई। UAE में भारतीय नागरिक नरेंद्र गजरिया के कई ज्वाइंट बैंक खातों में जमा करीब 2 करोड़ रुपये की राशि पांच महीने तक फंसी रही। पत्नी के देहांत के बाद दोनों के नाम से खुले संयुक्त खातों में रखी उनकी रकम को निकालने पर UAE के बैंकों ने रोक लगा दी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दुबई में नौकरी करने वाले नरेंद्र ने पत्नी के साथ मिलकर कई बैंकों में संयुक्त खाता खोल रखा था। इन खातों में उनके सारे पैसे जमा थे।

UAE में बैंकिंग नियम के अनुसार, अकाउंट पार्टनर की मौत के बाद स्थानीय कोर्ट से उत्तराधिकार प्रमाण पत्र हासिल करना होता है। उसके बाद ही बैंक खातों से जमा धनराशि की निकासी संभव हो पाती है।

नरेंद्र ने बताया कि पांच महीने काफी मुश्किल में बीते। कोर्ट के आदेश के बाद UAE के कानून के मुताबिक सभी संयुक्त खातों में जमा धनराशि को नरेंद्र और उनके बच्चों के बीच बराबर-बराबर बांट दिया गया।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020