दुबई। दुबई के एक भारतीय व्यवसायी ने पाकिस्तान, बांग्लादेश, चीन और अफगानिस्तान सहित 13 विदेशी कैदियों के जेल से रिहा होने के बाद उनके लिए एक तरफ की टिकट खरीदी है, ताकि वे अपने घरों में लौट सकें। पहल इंटरनेशनल ट्रांसपोर्ट के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक जोगिंदर सिंह सलारिया और पहल चैरिटेबल ट्रस्ट (PCT) के संस्थापक ने सोमवार को जेल से रिहा हुए कैदियों के लिए दुबई पुलिस अधिकारियों के साथ समन्वय करके इन कैदियों को घर पहुंचाने में मदद करने के लिए एक तरफ की फ्लाइट टिकट खरीदी है। खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, ये कैदी पाकिस्तान, बांग्लादेश, युगांडा, अफगानिस्तान, नाइजीरिया, चीन और इथियोपिया के नागरिक हैं।

सलारिया के अनुसार, कैदियों को छोटे अपराधों के लिए जेल में डाल दिया गया था और उन्होंने अपनी जेल की सजा पूरी कर ली थी और जल्द ही वे अपने घर पर लौट सकेंगे। दुर्भाग्य से ये लोग हवाई टिकट खरीदने के लिए भुगतान नहीं कर सकते थे। दुबई पुलिस रक्तदान अभियानों सहित कई धर्मार्थ गतिविधियों पर PCT के साथ काम करती है। अब, हम विभिन्न देशों के 13 लोगों को यात्रा सहायता प्रदान कर रहे हैं, ताकि वे अपने घर पहुंच सकें और अपने परिवारों से मिल सकें।

उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों ने हमें जेल से रिहा होने वाले कैदियों के नामों की एक सूची दी थी। अधिकांश अपराधियों को मामूली अपराधों जैसे ओवरस्टे, अपने नियोक्ताओं के साथ छोटे-मोटे विवाद आदि के लिए जेल में डाल दिया गया था। जेल से रिहा होने के बाद इस लोगों की की मदद करने के लिए वहां कोई भी नहीं था। बताते चलें कि सलारिया साल 1993 से यूएई के निवासी हैं। वह फेसबुक और यू-ट्यूब जैसी सोशल नेटवर्किंग साइटों के जरिये पाकिस्तान में सामाजिक कार्यकर्ताओं तक पहुंचे और उनके साथ संपर्क स्थापित किया ताकि लोगों को घर पहुंचाने के पूरे अभियान का वित्तपोषण कर सकें।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना