अबु धाबी। संयुक्त अरब अमीरात के अबु धाबी में प्रवासी भारतीयों ने जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया है। मुख्य कार्यक्रम बीएपीएस मंदिर में किया गया, जिसमें करब चार हजार लोगों ने हिस्सा लिया। इस दौरान भक्ति गीत, भगवद्गीता का पाठ, शांति और सद्भाव के लिए सामूहिक प्रार्थना, नृत्य नाटिका और भगवान कृष्ण के पालने को झुलाने जैसे कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। खलीज टाइम्स के अनुसार संयुक्त अरब अमीरात में भारत के राजदूत नवदीप सिंह सूरी की जगह इस कार्यक्रम में दुबई में महावाणिज्य दूत विपुल ने हिस्सा लिया।

उन्होंने कहा कि मंदिर और त्योहार दोनों देशों के बीच साझा मूल्यों और दोस्ती के प्रतीक हैं। इस अवसर पर बीएपीएस स्वामीनारायण संस्था के मुख्य पुजारी ने कहा कि हम सभी सौभाग्यशाली हैं कि हम एक ऐसे देश में रह रहे हैं, जो सहिष्णुता और सद्भाव के सार्वभौमिक मूल्यों का समर्थन करता है। बीएपीएस हिदू मंदिर के चेयरमैन डॉक्टर बीआर शेट्टी ने कहा कि मेरा मानना है कि जन्माष्टमी इस वर्ष के सहिष्णुता का उत्सव है। इस्कॉन द्वारा आयोजित एक अन्य कार्यक्रम में लगभग 2500 श्रमिकों ने हिस्सा लिया।