LAC standoff: भारत और चीन के बीच सीमा पर चल रहे तनाव के बीच चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंघे (Wei Fenghe) ने भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात करने की इच्छा जताई है। मॉस्को में चल रहे शंघाई सहयोग संगठन (SCO) की बैठक के इतर जनरल वेई ने राजनाथ सिंह से मुलाकात की इच्छा जताई है। अभी भारत ने इस मामले में कोई जवाब नहीं दिया है।

SCO की आज होने वाली बैठक में हिस्सा लेने के लिए राजनाथ सिंह और वेई फेंघे यहां पहुंचे हुए हैं। चीन द्वारा मुलाकात के लिए की गई पेशकश के संबंध में कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है। पहले ऐसी मीडिया रिपोर्ट्स थी कि राजनाथ सिंह इस बैठक के दौरान वेई फेंघे से मुलाकात नहीं करेंगे।

चीन और भारत के सैनिकों के बीच 15 जून को गलवान घाटी में हिंसक झड़प हुई थी। इस झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हुए थे जबकि चीन के 43 सैनिक हताहत हुए थे। इसके बाद चीनी सैनिकों ने 29-30 अगस्त की पैंगोंग झील के दक्षिण हिस्से में भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की थी, जिसे भारतीय सैनिकों ने नाकाम कर दिया था। दोनों देशों के बीच काफी समय से लगातार बैठकें चल रही थी

राजनाथ सिंह की रूसी रक्षा मंत्री से हुई मुलाकात:

राजनाथ सिंह और रूसी रक्षा मंत्री जनरल सेर्गेई शोइगू के बीच गुरुवार को मुलाकात हुई। यह बैठक करीब एक घंटे तक चली। इस दौरान दोनों देशों के बीच कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। भारत के रक्षा मंत्रालय ने ट्वीट कर लिखा, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रूस के रक्षा मंत्रालय में रूसी रक्षा मंत्री जनरल सेर्गेई शोइगू के साथ एक घंटे की बैठक की। बैठक में दोनों देशों के बीच सहयोग के क्षेत्रों की एक विस्तृत श्रृंखला को कवर किया गया।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस