पेरिस। लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी फ्रांस की सबसे पुराने साइकिलिंग इवेंट को पूरा करने वाले भारतीय सेना के पहले जनरल बन गए हैं, जिन्होंने पद पर रहते हुए इस इवेंट में हिस्सा लिया है। इस इवेंट में उन्होंने 1,200 किलोमीटर के पेरिस-ब्रेस्ट-पेरिस सर्किट को पूरा किया। 56 साल के अधिकारी ने बिना नींद लिए लगातार 90 घंटे तक साइकिल चलाकर 23 अगस्त को यह सर्किट पूरा किया।

रेस पेरिस के उपनगर रामबॉलेट से शुरूहुई और फ्रांस के ब्रेस्ट मिलेट्री पोर्ट पर समाप्त हुई। साल 1931 में शुरू हुए इस इवेंट में अब तक 31 हजार 125 साइकिल सवार हिस्सा ले चुके हैं। इस इवेंट में 60 देशों के कुल 6,500 प्रतियोगियों ने हिस्सा लिया था। भारत से इस इवेंट में शामिल हुए 367 प्रतिभागियों में से महज 80 ही सफलतापूर्वक इसे पूरा कर सके।

यह सर्किट काफी मुश्किल भरा होता है। इसमें प्रतिभागियों को चार दिनों तक बिना सोए करीब 31 हजार फीट की ऊंचाई पर चढ़ना होता है, जो माउंट एवरेस्ट को फतह करने के बराबर है। लेफ्टिनेंट पुरी ने कहा कि यह बहुत ही रोमांचक अनुभव था। इंसानी दिमाग बहुत ही खूबसूरत मशीन है, जिसे उत्साहित बनाए रखने की जरूरत होती है। यह उत्साह बदलाव से आता है।

पुरी ने कहा कि अपने दिमाग को उत्तेजित रखने के लिए हर तीन से पांच साल में हमें अपने शौक को बदलते रहना चाहिए। इस इवेंट का अनुभव विनम्र था क्योंकि यह आपको सिखाता है कि प्रकृति पर कभी विजय प्राप्त नहीं की जा सकती है। प्रतिभागियों को चरम मौसमी परिस्थिति का सामना करना होता है।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

fantasy cricket
fantasy cricket