लाहौर। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, वर्तमान में इलाज के लिए लंदन में हैं। उन्होंने मंगलवार को पाकिस्तान की एक अदालत को सूचित किया कि वह देश लौटने में असमर्थ हैं क्योंकि उनके डॉक्टरों ने उनसे कहा है कि वे बाहर न जाएं। शरीफ ने आगे कहा कि डॉक्टरों ने उन्हें चेतावनी दी है कि बाहर निकलने पर वे कोरोना वायरस महामारी से संक्रमित हो सकते हैं। तीन बार पीएम रह चुके 70 वर्षीय शरीफ वर्तमान में इलाज के लिए लंदन में हैं। उन्हें इम्यून सिस्टम डिसऑर्डर (प्रतिरक्षा प्रणाली विकार) होने का पता चला था।

लाहौर उच्च न्यायालय ने उन्हें इलाज के लिए विदेश जाने के लिए चार सप्ताह की अनुमति दी थी, जिसके बाद वह पिछले साल नवंबर में ब्रिटेन चले गए थे। उनकी हालिया चिकित्सा रिपोर्ट में डॉक्टरों ने उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण के कारण बाहर जाने से बचने की सिफारिश की है। इस रिपोर्ट को उन्होंने अपने वकील अमजद परवेज के माध्यम से लाहौर उच्च न्यायालय (एलएचसी) में पेश किया है।

शरीफ ने कहा कि उन्हें कम प्लेटलेट्स काउंट, डायबिटीज, हार्ट, किडनी और ब्लड प्रेशर संबंधी समस्याएं हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि उनके दिल को रक्त की पर्याप्त आपूर्ति नहीं हो रही है। अगर इस हालत में और ऐसे हालात में वह बाहर जाते हैं या पाकिस्तान लौटते हैं तो वे Covid​​-19 से जल्दी संक्रमित हो सकते हैं और यह उनके जीवन के लिए घातक साबित हो सकता है।

शरीफ ने अपने इलाज के लिए विदेश जाने की अनुमति के संबंध में अपनी मेडिकल रिपोर्ट लाहौर हाई कोर्ट को सौंप दी। उनकी बेटी मरियम नवाज ने कहा था कि उनके पिता एक उच्च जोखिम वाले रोगी थे, इसलिए उनके हृदय-श्वसन / कोरोनरी के इलाज को COVID-19 के कारण स्थगित कर दिया गया था। बताते चलें इस महीने की शुरुआत में एक पाकिस्तानी भ्रष्टाचार निरोधक अदालत ने शरीफ को एक भ्रष्टाचार मामले में 17 अगस्त को पेश होने का अंतिम मौका दिया था, जिसमें विफल होने पर उन्हें घोषित अपराधी घोषित किया जा सकता है।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020