इस्लामाबाद। Nawaz Sharif treatment : पाकिस्तान सरकार ने ब्रिटिश अधिकारियों को पत्र लिखाकर अनुरोध किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का इलाज हो जाने के बाद उन्हें इस्लामाबाद वापस सौंपे दिया जाए। इस पत्र में नवाज के खिलाफ चल रहे मामले की विस्तृत जानकारी दी गई है। एआरवाई न्यूज की खबर के अनुसार, पाकिस्तान ने ब्रिटिश सरकार को एक पत्र लिखा है जिसमें अनुरोध किया गया है कि ब्रिटेन में उनका इलाज पूरा होने के बाद शरीफ को पाकिस्तान वापस भेज दिया जाए।

बताते चलें कि लाहौर उच्च न्यायालय ने नवाज शरीफ को इलाज के लिए चार सप्ताह के लिए विदेश यात्रा की इजाजत दी थी। इसके बाद शरीफ 19 नवम्बर को एयर एंबुलेंस के जरिये वह इलाज के लिए लंदन गए थे। जस्टिस अली बाकिर नजफी की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय एक पीठ ने संघीय सरकार को पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के नेता का नाम बिना किसी शर्त के 'एग्जिट कंट्रोल लिस्ट' से हटाने का आदेश दिया था।

बेंच ने यह भी कहा था कि नवाज शरीफ की विदेश यात्रा की अवधि बढ़ाई भी जा सकती है, जो इस बात पर निर्भर करेगी कि उन्हें इलाज कराने में कितना समय और लगेगा। गौरतलब है कि भ्रष्टाचार के मामले में शरीफ को पिछले साल दिसंबर में सात साल जेल की सजा सुनाई गई थी। फिलहाल वह इम्यून सिस्टम डिसऑर्डर से पीड़ित हैं और पाकिस्तानी डॉक्टरों ने साफ कर दिया था कि देश में संभव सबसे अच्छे इलाज के बावजूद उनकी हालत में सुधार नहीं हो रहा है। लिहाजा, उन्हें विदेश में जाकर इलाज कराना चाहिए।

बताते चलें कि शरीफ के शरीर में खून में प्लेटलेट्स की मात्रा कम हो रही थी, जिसके चलते डॉक्टरों को उनके बोन मैरो टेस्ट को करने के बारे में फैसला किया है। पिछले हफ्ते, शरीफ के निजी चिकित्सक डॉ. अदनान खान ने कहा कि उन्हें आने वाले दिनों में एक एंजियोग्राम से गुजरना होगा, जिसे हार्ट प्रोसीजर के बाद किया जाएगा।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020