लंदन। लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग में भारत का स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाने के लिए जुटे भारतीय मूल के लोगों पर पाकिस्तान प्रायोजित प्रदर्शनकारियों ने हमला किया। इस दौरान भारतीयों को गालियां दी गईं और अंडे तथा पानी की बोतलों से हमला किया गया। प्रदर्शनकारियों में अलगाववादी सिख भी शामिल थे।

इस बीच नई दिल्ली में ब्रिटिश उच्चायोग ने शुक्रवार को कहा कि लंदन में भारतीय उच्चायोग के बाहर हुआ प्रदर्शन पूरी तरह शांतिपूर्ण था।

वहीं भाजपा भड़क गई है। पार्टी के विदेशी विभाग के प्रभारी विजय चौथैवाले ने कहा कि भारतीय दूतावास पथराव किया गया और तिरंगा भी क्षतिग्रस्त हुआ। पुलिस के मुकाबले प्रदर्शनकारियों की संख्या ज्यादा थी। जैसे ही उत्तेजित भारतीयों ने 'मोदी-मोदी' के नारे लगाए पाकिस्तानियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारे लगाने शुरू कर दिए।

विजय ने ट्वीट में लिखा, 'लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने जो कुछ हुआ वह निंदनीय है। BBC वर्ल्ड इसकी खबर कभी जारी नहीं करेगा।भारतीय मूल के लोग बड़ी संख्या में जुटे प्रदर्शनकारियों से घिरे थे। उनपर शारीरिक हमला होने का खतरा था। उच्चायोग के कर्मचारियों ने हर किसी को भवन के अंदर बुला लिया और उन्हें सुरक्षित घर भेजा। '