इस्लामाबाद। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने से बौखलाया पाक जहां दुनिया के देशों से मदद की भीख मांगता फिर रहा है वहीं भारतीय चीजों पर प्रतिबंध लगाने का काम भी कर रहा है। अब की बार पाकिस्तान में भारतीय कलाकारों वाले विज्ञापनों के प्रसारण पर रोक लगा दी गई है। जम्मू-कश्मीर पर भारत सरकार के फैसले के विरोध की कड़ी में यह रोक लगाई गई है।

पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेगुलेटरी अथॉरिटी की तरफ से 14 अगस्त को जारी पत्र में इस पाबंदी की घोषणा की है। अथॉरिटी ने कहा है कि पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट के पिछले साल अक्टूबर के निर्देशों के बाद उसने भारतीय चैनलों और कार्यक्रमों को दिखाने पर पहले ही रोक लगा दी थी।

लेकिन यह देखने को मिल रहा था कि भारतीय कलाकारों या भारत में तैयार बहुराष्ट्रीय कंपनियों के विभिन्न उत्पादों के विज्ञापनों का प्रसारण हो रहा था, जो सरकार की नीति के खिलाफ था। अथॉरिटी ने कंपनियों से कहा है कि उनके विज्ञापनों का प्रसारण तभी जारी रखा जाएगा, जब भारतीय कलाकारों को बदल दिया जाए।

इस कदम को लेकर पाक मीडिया ने प्रधानमंत्री इमरान खान के विशेष सहयोगी फिरदौस आशिक अवान के हवाले से कहा है कि पाकिस्तान में भारतीय विज्ञापनों पर रोक लगाने के साथ ही भारतीय फिल्मों की सीडी बेचने वाली दुकानों पर भी कार्रवाई की जा रही है।