इस्लामाबाद। कश्मीर मसले पर दुनियाभर में मुंह की खाने के बाद पाक पीएम इमरान खान ने अब गुलाम कश्मीर की राजधानी मुजफ्फराबाद में बड़ा जलसा करने की घोषणा की है।

दरअसल, भारत के खिलाफ जहर उगलने के लिए इमरान खान ने इन दिनों ट्विटर को अपना अड्डा बनाया हुआ है। इसी क्रम में इमरान ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि शुक्रवार को वह मुजफ्फराबाद में एक बड़ा जलसा करेंगे ताकि जम्मू-कश्मीर में लगातार जारी घेरेबंदी के बारे में दुनिया को संदेश दिया जा सके और कश्मीरियों को दिखाया जा सके कि पाकिस्तान उनके साथ दृढ़ता से खड़ा है।

जबकि गौर करने वाली बात यह है कि अभी सोमवार को ही पाकिस्तानी सेना के अत्याचारों और मानवाधिकारों के उल्लंघन के मसले पर गुलाम कश्मीर में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुए थे। दरअसल, पाकिस्तान सरकार द्वारा बहुप्रचारित 'कश्मीर सोलिडॉरिटी ऑवर' को पाकिस्तानियों का ही खास समर्थन नहीं मिला है। 30 अगस्त को कश्मीरी लोगों के समर्थन में आयोजित विरोध प्रदर्शन में पाकिस्तानी अधिकारियों ने स्कूली बच्चों को शामिल करने की बहुत कोशिश की थी, लेकिन वे उम्मीद के मुताबिक उन्हें जुटाने में सफल नहीं हो सके।

यही नहीं, विरोध प्रदर्शनों के मद्देनजर अधिकारियों ने यातायात तक को प्रतिबंधित किया था और कई सड़कों को बंद कर दिया था। जिसकी वजह से पाकिस्तानियों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा और सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ। गौरतलब है जब से भारत ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने की घोषणा की है, पाकिस्तान और उसके प्रधानमंत्री भारत के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। पाकिस्तान ने कश्मीर मसले का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की असफल कोशिश भी की। लेकिन भारत लगातार कहता रहा है कि कश्मीर भारत का अंदरूनी मसला है।

Posted By: Yogendra Sharma