मुजफ्फराबाद (गुलाम कश्मीर)। अपने देश के 73वें आजादी दिवस के मोके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पाक अधिकृत कश्मीर गए और वहां विधानसभा में भाषण दिया। इमरान ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को भारत की रणनीतिक गलती बताया और कश्मीर मुद्दे को हर वैश्विक मंच पर उठाने का ऐलान किया है। साथ ही धमकी दी कि भारत को इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। पढ़िए इमरान खान की कही बड़ी बातें -

  • इमरान ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाकर मोदी सरकार ने राजनीतिक गलती की है। इसके लिए भारत को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी।
  • मैं मानता हूं मोदी ने सामरिक गलती कर दी है। यह मोदी और उनकी भाजपा सरकार को बहुत महंगा पड़ेगा। मेरे हिसाब से मोदी ने जोड़तोड़ में गलती कर दी है। वह अपना आखिरी दांव चल चुके हैं।
  • मैं कश्मीर के मुद्दे को आगे तक लेकर जाऊंगा। मैं कश्मीर की आवाज बनूंगा, कश्मीर का दूत बनूंगा।
  • जम्मू-कश्मीर में हो रहे मानवाधिकार उल्लंघन की ओर ध्यान खींचना मुश्किल था। लेकिन अब मोदी की एक गलती से कश्मीर का मुद्दा स्पॉटलाइट यानी वैश्विक मीडिया की नजरों में आ गया है।
  • मोदी ने असल में इस विवाद का अंतरराष्ट्रीयकरण करने में मदद की है। क्रिकेटर से नेता बने इमरान ने भारतीय स्वतंत्रता दिवस को बतौर काला दिवस मनाने की तैयारी की है।

राष्ट्रपति के भाषण का मुद्दा भी सिर्फ कश्मीर

वहीं पाकिस्तान के मुख्य आजादी समारोह को संबोधित करते हुए पाकिस्तानी राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले के खिलाफ पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद जाएगा। ऐसा करके भारत ने नासिर्फ संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव का उल्लंघन किया है बल्कि शिमला समझौते का भी उल्लंघन किया है। उन्होंने कहा कि कश्मीरी और पाकिस्तानी एक हैं, हम उन्हें अकेला नहीं छोड़ेंगे।

Posted By: Arvind Dubey