लाहौर। पाकिस्तान के सबसे वजनी शख्स की दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से लाहौर के एक अस्पताल में जान चली गई। सादिकाबाद के रहने वाले नूर हसन (55) का वजन 330 किलोग्राम हो गया था। बीते दिनों उन्हें सेना की मदद से यहां के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां आईसीयू में इलाज चल रहा था, लेकिन बीते सोमवार को एक युवती की मौत के बाद परिजन ने अस्पताल में हंगामा किया। लोगों की तोड़फोड़ के कारण नर्सें नूर हसन को छोड़कर चली गईं और इस कारण उनकी मौत हो गई।

घर की दीवार तोड़कर सेना ने बाहर निकाला था

बीते दिनों सेना के हेलीकॉप्टर की मदद से 55 साल के नूरुल हसन को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। भारी शरीर के कारण वे चल-फिर भी नहीं पाते हैं। खास बात यह थी कि नूर हसन को उनके घर से मुख्य दरवाजे बाहर निकालना संभव नहीं हुआ तो दीवार तोड़नी पड़ी। सोशल मीडिया पर मदद की गुहार के बाद पाक सेना ने हसन को अस्पताल ले जाने और इलाज करवाने का जिम्मा उठाया था। इससे पहले पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने हसन के इलाज के लिए जरूरी इंतजाम किए जाने के आदेश दिए थे।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020