इस्लामाबाद। कराची में स्टाक एक्सचेंज पर सोमवार को हुए हमले से बौखलाए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने संसद में यह मामला उठाते हुए भारत पर ही हमले का दोष मढ़ दिया। चंद दिनों पहले संसद में ही अल कायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को शहीद बताने वाले इमरान ने कहा- जो मुंबई में हुआ था उसका वे (भारत) बदला लेना चाहते हैं। हमें कोई संदेह नहीं है कि यह हमला भारत ने कराया है।

इमरान खान ने एक बार फिर कश्मीर का राग छेड़ते हुए कहा कि वह जम्मू-कश्मीर में डोमिसाइल का मामला संयुक्त राष्ट्र में उठा रहे हैं। इसके साथ ही इस मामले को दुनिया के अन्य नेताओं के समक्ष भी उठाया जा रहा है। सोमवार को ही बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी से संबंधित मजीद ब्रिगेड ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। मगर, इमरान खान इसके बावजूद भी भारत पर इल्जाम लगाने से नहीं चूके।

बताते चलें कि सोमवार सुबह हथियारबंद चार आतंकी पार्किंग के रास्ते स्टाक एक्सचेंज में घुस गए थे। इस दौरान पुलिस और सुरक्षा-बलों ने चारों आतंकियों को मार गिराया था। हालांकि, तब तक आतंकियों की गोली का शिकार हुए सात लोगों की मौत हो चुकी थी। फिर भी पुलिस ने कई लोगों को इमारत से सुरक्षित निकाल लिया था।

इस आतंकी घटना के बारे में इमरान ने कहा, हमारे सुरक्षा बलों ने एक बड़ी त्रासदी टाल दी। पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी इमरान की हां में हां मिलाई। हालांकि, भारत ने सख्त शब्दों में उनके बयानों को खारिज कर दिया था। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने इसे बकवास बताते हुए कहा कि पाकिस्तान के विपरीत भारत को दुनिया में कहीं भी इस तरह के हमलों की निंदा करने में कोई हिचक नहीं है।

बीएलए ने कहा-निशाने पर पाकिस्तान-चीन

कराची में हुए हमले की जिम्मेदारी लेने वाले अलगाववादी संगठन बलूचिस्तान लिबरेशन (बीएलए) आर्मी ने कहा है कि हमारा उद्देश्य पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था और चीन को निशाना बनाना था। चीनी कंपनियों के पाकिस्तानी स्टाक एक्सचेंज में बड़े निवेश हैं। कराची में बीएलए का यह दूसरा बड़ा हमला है।

इसके पहले संगठन नवंबर 2018 में चीनी वाणिज्य दूतावास को निशाना बना चुका है। सुरक्षा बलों के मुताबिक बीएलए की मजीद ब्रिगेड का गठन 2011 में किया गया था। संगठन को यह नाम पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो के गार्ड रहे मजीद के नाम पर मिला है, जिसने बेनजीर की जान लेने की नाकाम कोशिश की थी।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags