SCO Summit 2022: समरकंद में SCO शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वापस लौट रहे हैं। इससे पहले उन्होंने उज्बेकिस्तान के पहले राष्ट्रपति इस्लाम करीमोव को पुष्पांजलि अर्पित की। प्रधानमंत्री मोदी प्रधानमंत्री ने इस शिखर सम्मेलन में क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्थिति, अफगानिस्तान सहित क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के मुद्दों पर भारत के दृष्टिकोण को साझा किया। आतंकवाद पर SCO ने आतंकवादियों, अलगाववादियों और चरमपंथी संगठनों की एक एकीकृत सूची विकसित करने की दिशा में काम करने के लिए सहमति जताई है, जिनकी गतिविधियां SCO देशों में प्रतिबंधित हैं।

इस दौरान पीएम मोदी की रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ शानदार मुलाकात हुई। उन्होंने कहा कि हमें व्यापार, ऊर्जा, रक्षा और अन्य क्षेत्रों में भारत-रूस सहयोग को आगे बढ़ाने पर चर्चा करने का अवसर मिला। हमने अन्य द्विपक्षीय और वैश्विक मुद्दों पर भी चर्चा की।

SCO शिखर सम्मेलन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शौकत मिर्जियोयेव के साथ भी एक द्विपक्षीय बैठक की। इस बैठक में आपसी सहयोग के कई बिन्दुओं पर चर्चा और सहमति हुई।

पीएम मोदी ने ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी से भी द्विपक्षीय बातचीत की और आपसी संबंधों को बढ़ाने पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्बेकिस्तान के समरकंद में SCO शिखर सम्मेलन के मौके पर तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एर्दोगन के साथ द्विपक्षीय बैठक की। इस दौरान दोनों नेताओं ने सहयोग के विभिन्न क्षेत्रों की पहचान करने और आपसी संबंधों को मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close