फ्रैंकफर्ट। डॉक्टर भगवान होता है और यह बात केवल हमारे देश में नहीं बल्कि दुनिया के हर देश में लागू होती है। कईं बार विपरित परिस्थितियों के बावजूद डॉक्टर अपना फर्ज निभाकर मिसाल पेश करते हैं और ऐसी एक मिसाल फ्रैंकफर्ट की एक महिला डॉक्टर ने पेश की है। यह महिला डॉक्टर प्रेगनेंट थी और डिलेवरी की तैयारी कर रही थी। तभी उसके सामने उसके ही जैसी एक अन्य गर्भवती महिला आई जो प्रसव पीड़ा से जूछ रही थी। महिला डॉक्टर ने उसे देखकर कुछ ऐसा किया जो लोगों की वाह वाही बटोर रहा है।

जानकारी के अनुसार फ्रैंकफर्ट के केंचुकी में स्थित रिजनल मेडिकल सेंटर में काम करने वाली डॉक्टर अमांडा हेज गर्भवती थीं और दर्द शुरू होने पर अपने प्रसव की तैयारी में थी। तभी उसने अस्पताल में ही किसी दूसरी गर्भवती महिला की प्रसव पीड़ा भरी चीखें सुनी। इसके बाद महिला डॉक्टर उठीं और खुद का प्रसव कुछ समय के लिए रोककर उस महिला की डिलेवरी करवाई।

महिला मरीज जिसका नाम लीह हैलीडे जॉनसन था वो दर्द में थी लेकिन ऑन कॉल डॉक्टर अब भी छुट्टी पर था। दूसरी तरफ महिला का बच्च वक्त से पहले होने को था। डॉक्टर के अनुसार बच्चे के गले के आसपास एम्बलिकल कॉर्ड लिपटी हुई थी। हमारे पास ज्यादा वक्त नहीं था और इसलिए मैंने बिस्तर छोड़ा और उसके कमरे में पहुंच गई।

वहां कुछ ही देर में महिला का प्रसव हो गया। इसके कुछ ही पलों बाद उसने एक स्वस्थ्य बेटी को जन्म दिया। इसके बाद इस महिला डॉक्टर ने खुद भी बच्चे को जन्म दिया। इस महिला डॉक्टर की सोशल मीडिया में जमकर तारीफ हो रही है।