वाशिंगटन। अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट टैक्स रिटर्न और वित्तीय रिकॉर्ड से जुड़े तीन अलग-अलग मामलों में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अपील पर सुनवाई करेगा। कंजरवेटिव न्यायाधीशों के बहुमत वाले सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर कहा है कि वह अगले साल मार्च में सुनवाई करेगा और 30 जून से पहले फैसला सुना देगा।डोनाल्ड ट्रंप, रिचर्ड निक्सन के बाद पहले ऐसे अमेरिकी राष्ट्रपति हैं, जिन्होंने अपना टैक्स रिटर्न सार्वजनिक नहीं किया है। इसके पीछे उन्होने यह तर्क दिया है कि वह आंतरिक राजस्व सेवा (आईआरएस) द्वारा की जाने वाली ऑडिट के तहत आते हैं।

ट्रंप के वकील जे सेकुलो ने एक बयान जारी कर कहा है , 'हमें खुशी है कि सुप्रीम कोर्ट राष्ट्रपति से जुड़े तीन लंबित मामलों की समीक्षा के लिए तैयार हो गया है। ये मामले महत्वपूर्ण संवैधानिक मुद्दों से जुड़े हुए हैं। जब भी सुनवाई होगी हम अपने लिखित और मौखिक तर्क कोर्ट के सामने पेश करेंगे।' दरअसल डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से ट्रंप के खिलाफ संपत्ति से जुड़े दो मामले दर्ज किे गए हैं।

एक में, संसद की हाउस ओवरसाइट एंड रिफॉर्म कमेटी की ओर से ट्रंप के वर्षों तक के व्यक्तिगत और कॉरपोरेट वित्तीय रिकॉर्ड के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति की अकाउंटिंग फर्म 'मजर्स यूएसए' को समन जारी किया है। दूसरे में, राष्ट्रपति ट्रंप और उनके कारोबार से संबंधित वित्तीय दस्तावेजों के लिए हाउस फाइनेंशियल सर्विसेज और इंटेलिजेंस समितियों ने ड्यूश बैंक और कैपिटल वन को समन जारी किया है। वहीं, तीसरे मामले में ट्रंप के व्यक्तिगत इनकम टैक्स रिटर्न से जुड़ी जानकारी के संबंध में मजर्स यूएसए को एक समन जारी किया गया है।

Posted By: Yogendra Sharma

fantasy cricket
fantasy cricket