वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत के खिलाफ प्रतिशोध का सुझाव देने के एक दिन बाद यू-टर्न लेते हुए नई दिल्ली की तारीफ की। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी मददगार थे क्योंकि उन्होंने हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन (HCQ) पर भारत की स्थिति का समर्थन किया। फॉक्स न्यूज पर हनिटी को दिए एक टेलीफोन साक्षात्कार में ट्रंप ने कहा- मैंने लाखों खुराक खरीदी, 2.9 करोड़ से अधिक। इसका बहुत सारा हिस्सा भारत से बाहर आता है।

ट्रंप ने कहा कि मैंने पीएम मोदी से बात की और उनसे पूछा कि क्या वह इसे जारी करेंगे? वो बहुत महान थे। वह वास्तव में बहुत अच्छे थे। उन्होंने कहा कि क्या आप जानते हैं कि उन्होंने उसे क्यों रोका था, क्योंकि वे इसे भारत के लिए चाहते थे। लेकिन इससे काफी अच्छी चीजें आ रही हैं।

बताते चलें कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने पिछले दिनों बयान दिया था- 'मेरी पीएम मोदी से रविवार सुबह बात हुई और मैंने कहा कि हम उनकी तारफी करेंगे, यदि वे हमें दवा का आपूर्ति करना जारी रखते हैं। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो कोई बात नहीं, लेकिन तब बदला लिया जाएगा। ऐसा क्यों नहीं होना चाहिए?'

ट्रंप हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन नाम की दवा को मांग रहे हैं, जिसका इस्तेमाल मलेरिया के इलाज के लिए किया जाता है। मगर, भारत में ही इस दवा की कमी होने के बाद पीएम मोदी ने दवा के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा था कि मानवीय आधार पर भारत अपने सहयोगी देशों को पर्याप्त मात्रा में दवाओं की आपूर्ति करना जारी रखेगा, जो हम पर निर्भर हैं। इसमें पैरासिटामॉल के साथ ही हाइड्रोक्सिक्लोरोक्विन भी शामिल हैं।

इसके साथ ही विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि हम जरूरी दवाओं की सप्लाई उन देशों को भी करेंगे, जो कोरोना संक्रमण से बुरी तरह से प्रभावित हैं।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Makar Sankranti
Makar Sankranti