वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उनका प्रशासन अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले चीन के साथ व्यापार समझौते पर मुहर लगा सकता है, या चुनाव में अमेरिकी मतदाताओं के वोट डालने के एक दिन बाद समझौता किया जा सकता है। न्यू मैक्सिको से कैलिफोर्निया की यात्रा के दौरान एयर फोर्स वन में सवार होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए ट्रंप ने दावा किया कि बीजिंग को लगता है कि वह फिर से चुनाव जीतने जा रहे है, लेकिन चीनी अधिकारी किसी और के साथ इस मुद्दे को हल करना पसंद करेंगे।

ट्रंप ने कहा कि वह चीन को बता चुके हैं कि अगर 3 नवंबर 2020 के चुनाव के बाद यह सौदा होता है, तो यह बीजिंग के लिए उससे भी बदतर शर्तों पर होगा, जो उसे अभी मिल रही हैं। मुझे लगता है कि जल्द ही, शायद चुनाव से एक दिन पहले या चुनाव के एक दिन बाद एक सौदा होगा। और यदि चीन के साथ चुनाव के बाद यह सौदा होगा, तो यह सबसे बड़ा सौदा होगा। जैसे आपने पहले कभी नहीं देखा होगा और चीन यह बात जानता है।

उन्हें लगता है कि मैं चुनाव जीतने जा रहा हूं। चीन सोचता है कि मैं इतनी आसानी से जीतने वाला हूं और वे चिंतित हैं क्योंकि मैंने उनसे कहा था- 'अगर यह सौदा चुनाव के बाद है, तो यह अभी की तुलना में बहुत खराब होने वाला है। मैंने उनसे कहा कि क्या वे किसी और को जीतते देखना चाहते हैं? अमेरिकी राष्ट्रपति की टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब लगभग दो महीनों में पहली बार अमेरिका और चीन के उप व्यापार वार्ताकार वाशिंगटन में दो दिनों के बाद व्यक्तिगत बैठक करने वाले हैं।

उनके बीच होने वाली चर्चा का मकसद अक्टूबर की शुरुआत में दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच पिछले 14 महीने से चल रहे ट्रेड वॉर से निकलने का रास्ता खोजना है। बताते चलें कि अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वॉर की वजह से अमेरिका ने चीन के सामानों पर आयात शुल्क काफी ज्यादा बढ़ा दिया है, जिसका असर अमेरिकी बाजारों में भी दिखने लगा है।