इन दिनों हर तरफ सिर्फ एक ही चर्चा है, कोरोना वायरस, उसकी दहशत और उससे बचाव के तरीके। दुनियाभर में लोग कोरोनवायरस के प्रकोप से लड़ने के लिए अपने तरीके से काम कर रहे हैं। भारत सहित कई देशों में लॉक डाउन कर दिया गया है और करीब तीन अरब से ज्यादा लोग घरों में कैद हो गए हैं। इस वायरस से बचने के लिए लोग घरों के अंदर रहने के साथ ही सामाजिक दूरी बनाए हैं, शारीरिक संपर्क से बच रहे हैं, मास्क पहन रहे हैं और नियमित अंतराल पर हाथ धोने जैसे कुछ ऐसे बुनियादी निवारक उपायों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

हालांकि, बहुत से लोग मास्क और दस्ताने की वजह से अपने ड्रेसिंग सेंस को खराब नहीं होने दे रहे हैं। दक्षिण कोरिया के लोग गुलाबी रंग के फेस मास्क की मांग करने के साथ ही मास्क लगाने के बाद चेहरे के चारों ओर मेक-अप कैसे करें, इसका तरीका सीख रहे हैं। वहीं, स्लोवाकिया की राष्ट्रपति ज़ुजाना कैपुटोवा ने इससे आगे बढ़ते हुए एक और कदम उठाया है। वह अपनी मैचिंग ड्रेस के रंग का हाथ से बना मास्क पहन रही हैं। यानी हर कोई इस महामारी के दौरान अपना सर्वश्रेष्ठ दिखने का तरीका ढूंढ रहा है।

लोगों को फेस मास्क में एक फैशनेबल मोड़ जोड़ने के लिए एक उन्होंने बेहतरीन तरीका बताया है। जहां आम लोग, जो और जैसे मास्क बाजार में उपलब्ध थे उन्हीं से काम चला रहे थे, लेकिन स्लोवाकिया की राष्ट्रपति ने वैसे मास्क पहने थे, जो उसकी पोशाक के रंग के साथ मेल खा रहे थे। शनिवार (21 मार्च) को उसने केंद्र-गठबंधन सरकार की नियुक्ति की, जो कि ऑर्डिनरी पीपुल्स पार्टी के नेता इगोर मटकोव के नेतृत्व वाली सरकार थी। समारोह के दौरान सभी प्रतिभागी दस्ताने पहने और फेस मास्क लगाए हुए थे। मगर, यह जुजाना कैपुटोवा का फेस मास्क था, जो सबसे अलग दिख रहा था।

यह पहली बार नहीं है, जब उन्होंने ऐसा कुछ किया है, जो खबरों की सुर्खियों में आ गया हो। कुछ दिनों पहले एक अन्य कार्यक्रम के लिए, उसने एक रंगीन पोशाक पहनी थी और उस समय भी, उसके मास्क का रंग पोशाक के रंग से मेल खा रहा था। जैसे ही उनकी तस्वीरें ट्विटर पर शेयर हुईं, वे वायरल हो गईं। Twitterati इस नए फैशन के आसपास अपना सिर नहीं लपेट सकते थे। और इसने कुछ सबसे प्रफुल्लित करने वाले मेमों को इन अंधेरे समय में देखा। एक नजर है।

View this post on Instagram

Ľudia vo voľbách dali veľkú dôveru na dôležité zmeny, ktoré naša spoločnosť potrebuje. Skôr, ako sa bude môcť vláda Igora Matoviča tejto veľkej úlohy prebudovania našej spoločnosti naplno ujať, stojí pred ňou ešte iná dôležitejšia a bytostnejšia úloha. A to, ochrániť čo najviac ľudských životov v súboji s neviditeľným nebezpečím. Len ťažko si predstaviť zadanie, ktoré by bolo náročnejšie. Nastupujúcim ministrom, ministerkám a premiérovi Igorovi Matovičovi som pri odovzdaní menovacích dekrétov povedala aj toto: „Dnes nepreberáte iba moc, dnes preberáte najmä zodpovednosť za republiku a za jej obyvateľov. Každé zlyhanie, ktoré je za obvyklých pomerov len predmetom mediálnej kritiky, by dnes ohrozilo to základné, čo nám všetkým dáva šancu, aby sme situáciu zvládli. Verím, že budete múdra vláda, vláda zjednocujúca, okolo ktorej sa všetci zomkneme. Želám nielen vám, ale všetkým obyvateľom republiky, aby sme s odstupom rokov mohli povedať, že v marci 2020 prevzal zodpovednosť vládny kabinet, ktorý urobil pre Slovenskú republiku historicky významnú službu. K jej naplneniu vám budem z plných síl nápomocná a prajem v nej veľa úspechov.“ #zuzanacaputova #prezidentka #nasaprezidentka #mojaprezidentka #prezidentskypalac #uradvlady #slovensko #slovakia #nrsr #volby2020

A post shared by Zuzana Čaputová (@zuzana_caputova) on

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai