वॉशिंगटन। अयोध्या में पांच अगस्त को भव्य राम मंदिर के भूमि पूजन समारोह का जश्न अमेरिका में भी मनाया जाएगा। यहां के प्रतिष्ठित टाइम्स स्क्वायर में विशाल होर्डिंग लगाया जाएगा, जिसमें अपनी तरह की ऐतिहासिक घटना के दिन भगवान राम और अयोध्या में भगवान राम के भव्य मंदिर की 3डी तस्वीरें दिखाई जाएंगी। प्रमुख सामुदायिक नेता और अमेरिकन इंडिया पब्लिक अफेयर्स कमेटी के प्रेसिडेंट जगदीश सेवानी ने बुधवार को कहा कि पांच अगस्त को न्यूयॉर्क में ऐतिहासिक क्षण का जश्न मनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यहां के टाइम्स स्क्वायर पर इसकी व्यवस्था की जा रही है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए आधारशिला रखेंगे। सेहानी ने बताया कि इस मौके के लिए जिन प्रमुख होर्डिंगों को किराये पर लिया जा रहा है, उनमें विशाल नैस्डैक स्क्रीन और 17,000-वर्ग फुट की एलईडी डिस्प्ले स्क्रीन शामिल है, जिसे दुनिया में सबसे बड़ी एक्सटीरियर डिस्प्ले माना जाता है। इसके साथ ही यह टाइम्स स्क्वायर में लगी उच्चतम-रेजोल्यूशन की एलईडी स्क्रीन है।

5 अगस्त को सुबह 8 बजे से रात 10 बजे तक हिंदी और अंग्रेजी में 'जय श्री राम' लिखे भगवान राम के चित्र और वीडियो, मंदिर के डिजाइन और वास्तुकला के 3-डी चित्रों के साथ-साथ शिलान्यास की तस्वीरें वहां प्रदर्शित होंगे। दुनिया के सबसे लोकप्रिय पर्यटक स्थलों में से एक टाइम्स स्क्वायर पर पीएम मोदी की तस्वीरें कई होर्डिंग में प्रदर्शित होंगी। सेहानी ने कहा कि भारतीय समुदाय के सदस्य उत्सव को मनाने के लिए और मिठाइयां बांटने करने के लिए पांच अगस्त को टाइम्स स्क्वायर पर जमा होंगे।

उन्होंने कहा कि यह जीवनकाल में एक बार या एक सदी में एक बार होने वाली घटना नहीं है। यह एक ऐसी घटना है, जो मानव जाति के जीवन में एक बार आती है। 'राम जन्म भूमि शिलान्यास' के रूप में मनाने के लिए प्रतिष्ठित टाइम्स स्क्वायर से बेहतर उत्सव और क्या बेहतर जगह हो सकती थी।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020