न्यूयॉर्क। संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की प्रतिनिधि ने आरोप लगाया है कि कश्मीर में आत्मनिर्णय के अधिकार को लेकर हाल में जो भावनाएं उमड़ी हैं, उन्हें नकारा जा रहा है। इससे क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा को खतरा पैदा हो सकता है।

संयुक्त राष्ट्र के पाकिस्तानी दूतावास द्वारा मनाए गए कश्मीर दिवस कार्यक्रम में राजदूत मलीहा लोधी के अनुसार कश्मीर के लोगों की आजादी की इच्छा को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के समक्ष कई बार उठाया गया है लेकिन उसकी लगातार अनसुनी हो रही है। इससे क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा को लेकर खतरा पैदा हो गया है।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सरकार की ओर से उन्होंने इस मामले को कई स्तरों पर उठाया। सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष के समक्ष भी रखा है। इसलिए अंतरराष्ट्रीय बिरादरी की जिम्मेदारी बन जाती है कि वह शांति और सुरक्षा के लिए कश्मीरी अवाम की चाहत की तरफ ध्यान दे।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020