इस्तांबुल। तुर्की को रुस से रक्षा सौदे के तहत मिली एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली तुर्की पहुंचना शुरू हो गई है। तुर्की के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक शुक्रवार को एस-400 प्रणाली का कुछ हिस्सा राजधानी अंकारा के मुर्तेद एयर बेस पहुंच गया है।

तुर्की के रक्षा उद्योग निदेशालय के अनुसार अगले कुछ दिनों में इस रक्षा प्रणाली का सारा साजो-सामान रूस से यहां आ जाएगा। रूस की इस मिसाइल रक्षा प्रणाली की खरीद को लेकर नाटो (उत्तर अटलांटिक संधि संगठन) सदस्य देश तुर्की के अमेरिका से रिश्ते बिगड़ने की आशंका जताई जा रही है।

अमेरिका एस-400 की खरीद को लेकर तुर्की पर प्रतिबंध लगाने की चेतावनी भी दे चुका है। अमेरिका ने यह भी कहा है कि रूस के साथ इस सौदे के कारण तुर्की को दिए जाने वाले लॉकहीड मार्टिन एफ-35 लड़ाकू विमानों की आपूर्ति को रोका जा सकता है।

एफ-35 लड़ाकू विमानों के संचालन के लिए तुर्की के पायलटों को दी जा रही ट्रेनिंग उसने पहले ही बंद कर दी है। हाल में संपन्न जी-20 शिखर सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एर्दोगन की मुलाकात के बाद भी अमेरिका ने एस-400 मिसाइल सौदे को लेकर अपने रुख में परिवर्तन से इन्कार कर दिया था।