वाशिंगटन। सऊदी अरब के विदेश राज्य मंत्री आदिल अल-जुबेर ने कहा है कि सऊदी को दिवंगत पत्रकार जमाल खशोगी के शव की कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने हालांकि माना कि सऊदी अरब के ही कुछ अधिकारियों ने अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर जाकर खशोगी की हत्या की थी।

इस मामले में 11 लोगों को आरोपित किया गया है। सऊदी सरकार खासकर प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के मुखर आलोचक खशोगी की गत दो अक्टूबर को तुर्की स्थित सऊदी वाणिज्य दूतावास में हत्या कर दी गई थी।

द वाशिंगटन पोस्ट के पत्रकार खशोगी कई सालों से अपना देश छोड़कर अमेरिका में रह रहे थे। तुर्की के अधिकारियों का दावा है कि हत्या के बाद खशोगी के शव के कई टुकड़े कर दिए गए थे। खशोगी के शव का पता नहीं चल पाने की वजह के सवाल पर जुबेर ने कहा, 'अभी मामले की जांच की जा रही है। हमें उम्मीद है कि जल्द ही हमें सच का पता चल जाएगा।'

उन्होंने यह भी कहा कि तुर्की से इस मामले से संबंधित सुबूतों की मांग की गई है लेकिन उनका कोई जवाब नहीं आया है। अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआइए की रिपोर्ट में कहा गया था कि खशोगी की हत्या प्रिंस के इशारे पर की गई थी। लेकिन सऊदी सरकार ने इस रिपोर्ट को खारिज कर दिया था।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket