Sri Lanka Food Crisis । श्रीलंका में जारी सियासी संकट के कारण महंगाई आसमान छू रही है। श्रीलंकाई सरकार की आर्थिक नीतियों के कारण देश में खाने-पीने और राशन की सामान्य वस्तुएं काफी महंगी हो गई है। आवश्यक वस्तुओं की कीमतें आसमान छू रही है और इस कारण से आम लोगों के लिए खाना-पीना भी मुश्किल हो गया है। श्रीलंका में अस्थिरता के माहौल की बीच सरकार के प्रति भी गुस्सा बढ़ रहा है।

श्रीलंका में राशन की भारी किल्लत

श्रीलंका में राशन की भारी किल्लत के कारण 2 करोड़ की आबादी सड़कों पर आ गई है। दुनिया को चावल का एक्सपोर्ट करने वाला श्रीलंका भी ताजा संकट के बीच चावल आयात करने को मजबूर है और यहां स्थानीय बाजार में चावल 450 रुपये से लेकर 700 रुपये के बीच बिक रहा है। वहीं आलू और प्याज जैसी सब्जियां भी 220 रुपये किलो बिक रही है। लहसुन भी 700 रुपए प्रति किलो बिक रहा है। सबसे खास बात ये है कि यहां लिस्ट में जिन चीजों के ताजा भाव बताए जा रहे हैं वो थोक भाव के आधार पर है, जबकि रिटेल मार्केट में इन सभी चीजों का भाव 20 फीसदी ज्यादा हो सकता है।

नारियल उत्पादक देश है श्रीलंका

गौरतलब है कि श्रीलंका नारियल और नारियल तेल के सबसे बड़े उत्पादक देशों में से एक है, लेकिन फिलहाल यहां एक नारियल की कीमत 85 से 100 रुपए प्रति नग पर पहुंच गई है, वहीं नारियल तेल 600 से 1000 रुपए प्रति लीटर के बीच बिक रहा है।

यहां देखें अन्य चीजों का दाम

- राजमा 925 रुपए प्रति किलो तक

- पॉपकॉर्न 760 रुपए प्रति किलो

- मसूर की दाल 600 रुपए प्रति किलो

- काबुली चना 800 रुपए प्रति किलो

- हरा मटर 355 रुपए प्रति किलो

- हरा मूंग 850 रुपए प्रति किलो

- लाल राजमा 700 रुपए प्रति किलो

- काला चना 630 रुपए प्रति किलो

- मूंग दाल 1,240 रुपए प्रति किलो

- अरहर की दाल 890 रुपए प्रति किलो

- मूंगफली दाना 760 रुपए प्रति किलो

- उड़द की दाल 850 रुपए प्रति किलो

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close