बर्लिन। दक्षिण-पश्चिमी जर्मनी के शहर में स्थित दो बार में नौ लोगों की गोली मारकर हत्या करने वाले संदिग्ध की मौत हो गई है। हमले में पांच लोग घायल हुथे। पुलिस ने गुरुवार को कहा कि एक बंदूकधारी का शव उसके घर में मिला। फ्रैंकफर्ट के वित्तीय केंद्र के पूर्व में स्थित शहर हानाऊ में स्थित उसके घर में एक अन्य व्यक्ति का शव भी बरामद किया गया। पुलिस ने एक बयान में कहा कि इस बात के कोई संकेत नहीं है कि वारदात में अन्य संदिग्ध शामिल थे।

पाए गए दो मृत लोगों में से एक के गोलीबारी के अपराधी होने की अत्यधिक संभावना है। पुलिस ने एक घायल व्यक्ति के इलाज के दौरान दम तोड़ने के बाद मृतकों की संख्या आठ से बढ़ाकर नौ कर दी है। पुलिस ने कहा कि उनकी जानकारी से पता चलता है कि बंदूकधारी ने एक अंधेरे कार में भागने के बाद अपने घर पर आत्महत्या कर ली थी। हालांकि, अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि उसने गोलीबारी की घटना का क्यों अंजाम दिया था।

बड़े पैमाने पर बिकने वाले बिल्ड अखबार ने कहा कि वह एक जर्मन नागरिक था और उसकी कार में गोला-बारूद और गन मैगजीन मिली थीं। उसके पास एक बंदूक का लाइसेंस था। जर्मन ब्रॉडकास्टर हेसेनशाउ ने बताया कि पहली गोलीबारी में तीन लोग मारे गए, जबकि दूसरी में पांच लोगों की मौत हुई थी। हनाऊ शहर फ्रैंकफर्ट से करीब 25 किमी की दूरी पर है, जिसकी आबादी 1,00,000 से अधिक है।

बताते चलें कि 24 जनवरी को जर्मनी के दक्षिण-पश्चिमी शहर रॉट एम सी में भी फायरिंग की घटना हुई थी, जिसमें एक ही परिवार के छह लोगों की मौत हे गई थी। रिपोर्ट के मुताबिक हमलवार परिवार को अच्छी तरह से जानता था।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai