लंदन। ब्रिटेन ने अपने VISA नियमों में बड़ा बदलाव करते हुए दो साल के लिए नए पोस्ट-स्टडी VISA का एलान किया है। इस VISA से भारतीय छात्रों को लाभ होने की संभावना जताई जा रही है। नए VISA के तहत विदेशी छात्र अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद ब्रिटेन में दो साल तक रहकर नौकरी कर सकेंगे या काम तलाश सकेंगे। इस नए VISA कार्यक्रम को अगले साल से प्रभावी किया जाएगा।

अभी यह है नियम

मौजूदा नियम के तहत विदेशी छात्रों को ग्रेजुएशन करने के बाद सिर्फ चार माह तक ब्रिटेन में रहने की इजाजत है। जॉनसन सरकार में गृह मंत्री भारतवंशी प्रीति पटेल ने कहा, 'नए बदलाव से अंतरराष्ट्रीय छात्र ब्रिटेन में विज्ञान और गणित या प्रौद्योगिकी और इंजीनियरिग की पढ़ाई कर सकेंगे।

2012 में बंद कर दिया गया था

पोस्ट-स्टडी वीजा 2012 में ब्रिटेन की तत्कालीन गृह मंत्री टेरीजा मे के कार्यकाल के दौरान दो वर्षीय पोस्ट-स्टडी वीजा बंद कर दिया था। इस कदम के बाद ब्रिटेन में भारत जैसे देशों के छात्रों की संख्या में बड़ी गिरावट देखी गई थी।

इस कदम का हुआ स्‍वागत

ब्रिटिश विश्वविद्यालयों ने किया स्वागत पोस्ट-स्टडी वीजा दोबारा शुरू करने के फैसले का ब्रिटेन के विश्वविद्यालयों के प्रमुखों और प्रतिनिधियों ने स्वागत किया है। यूनिवर्सिटीज यूके इंटरनेशनल की निदेशक विविन स्टर्न ने कहा, 'करीब 82 फीसद भारतीय छात्र अपने करियर से संतुष्ट हैं। हम जानते हैं कि डिग्री हासिल करने के बाद उनके लिए ब्रिटेन में काम करने का अवसर मिलना कितना अहम है।'

आंकड़ों की जुबानी

ब्रिटेन में कितने भारतीय छात्र ब्रिटेन में पढ़ने जाने वाले भारतीय छात्रों की संख्या में 2010 से गिरावट दर्ज की गई थी। उस साल करीब 39 हजार भारतीय छात्रों ने ब्रिटिश विश्वविद्यालयों में दाखिला लिया था।

यह आंकड़ा 2017 में कम होकर 20 हजार के स्तर पर आ गया था। पिछले साल हालांकि इस आंकड़े में वृद्धि दर्ज की गई थी। 2018 में करीब 22 हजार छात्र ब्रिटेन पढ़ने के लिए पहुंचे।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Budget 2021
Budget 2021