अंकारा। तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयब एर्दोगन ने बुधवार को घोषणा की है कि सेना ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बकर अल बगदादी की पत्नी को गिरफ्तार करने का दावा किया है। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि उसे कब, कहां और कैसे गिरफ्तार किया गया और उसकी पहचान कैसे की गई थी। उसके एक करीबी ने बताया कि बगदादी की चार पत्नियां थीं और इस्लामिक कानून के मुताबिक, वह एक बार में इतनी ही पत्नियां रख सकता था।

इससे पहले तुर्की की सेना ने उत्तरी सीरिया में बगदादी की 65 वर्षीय बहन रसमिया अवाद, उसके पति और उसकी बहू को भी गिरफ्तार करने का दावा किया था। उसे सीरिया की सीमा के करीब तुर्की के नियंत्रण वाले इलाके से गिरफ्तार किया गया था। उस दौरान रसमिया के सात साथ पांच बच्चे भी थे। उन लोगों से तुर्की के अधिकारी पूछताछ कर आईएस के अंदरूनी कामकाज के बारे में जानकारी हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं।

अगर बगदादी की पत्नी को गिरफ्तार करने की बात सही है, तो यह आतंक के खिलाफ जंग में बड़ी कामयाबी साबित हो सकती है। वह अधिकारियों को कई ऐसी जानकारियां दे सकती है, जिनसे इस संगठन की कमर पूरी तरह से तोड़ने में मदद मिल सकती है।

बताते चलें कि बददादी ने आईएस का नेतृत्व करते हुए साल 2014-2017 के बीच इराक और सीरिया के विशाल क्षेत्रों पर कब्जा कर लिया था। इससे पहले उसने खुद को खलीफा घोषित कर दिया था। 26 अक्टूबर को अमेरिकी सेना के विशेष बलों की कार्रवाई में घिर जाने के बाद बगदादी ने खुद को बम से उड़ा लिया था। उसके साथ तीन बच्चे और दो पत्नियों की मौत भी हो गई थी।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai