वॉशिंगटन। अमेरिका में एक शख्‍स के साथ कुछ रोचक घटा। उसकी पत्‍नी उससे खुश नहीं थी क्‍योंकि वह उसे वक्‍त नहीं दे पाता था। इसके चलते मामला कोर्ट तक गया लेकिन बाद में पता चला पत्‍नी का चाल-चलन गलत था और कोर्ट ने इसी को रिश्‍ता टूटने की वजह माना। केविन हॉवर्ड नाम के शख्‍स को अपना जीवन बिखरता हुआ मालूम हुआ जब उसके 12 साल के वैवाहिक जीवन के बाद पत्‍नी ने उसे तलाक दे दिया। यह बात उसे बाद में पता चली कि उसका अपने ही एक सहकर्मी से अफेयर था और वह पति को धोखा दे रही थी। लेकिन इन सब बातों के बीच उसे हंसने का एक मौका मिला जब नॉर्थ केरोलिना के जज इस बात राजी हुए कि उसकी शादी की असफलता के लिए वह दूसरा आदमी ही जिम्‍मेदार है।

इतना ही नहीं, कोर्ट ने हॉवर्ड पूरे साढ़े सात लाख यूएस डॉलर का हर्जाना भी दिलवाया। हॉवर्ड ने एक लोक टीवी स्‍टेशन से बातचीत में बताया कि उसकी पत्‍नी ने उसे केवल इतना ही बताया था कि उसे तलाक चाहिये। इसकी वजह अजीब बताई। उसका कहना था कि मैं बहुत काम करता हूं और इस कारण उसे समय नहीं दे पाता, इसलिए उसे तलाक चाहिये। लेकिन एक प्राइवेट जासूस ने अपनी तहकीकात में यह पता लगाया कि उसकी पत्‍नी का उसके ऑफिस में काम करने वाले एक आदमी से अफेयर था। हॉवर्ड एक बार पहले उससे मिल भी चुका था।

हॉवर्ड ने बताया कि, वह एक बार हमारे घर पर डिनर पर आया था। हमने आपस में गप्‍पें मारीं, निजी जीवन पर बातें भी कीं। लेकिन पत्‍नी की नाराजगी के चलते उसे कोर्ट का रूख करना पड़ा। इसमें भी एक पुराने कानून के चलते वाद दायर किया गया। यह 18वीं शताब्‍दी के समय की है जिसे 'अलाइनशन आफ अफेक्‍शन' यानी स्‍नेह का अलगाव कहा जाता है। उस दौर में पत्नियों को पति की संपत्ति माना जाता था।

यह कानून अभी भी अमेरिका के पांच अन्‍य राज्‍यों में प्रभावशाली है। इनके नाम हवाई, मिसिसिपी, न्‍यू मैक्स्किो, साउथ डकोटा और उटाह है। इस कानून के तहत दंपती में से कोई भी एक व्‍यक्ति दूसरे को शादी टूटने का दोषी ठहरा सकता है। इसके पीछे गलत चाल-चलन का हवाला दिया जा सकता है। हॉवर्ड ने बताया कि मैंने केस इसलिए लगाया क्‍योंकि मुझे लगता है लोगों को शादी का महत्‍व समझना चाहिये।

उसके वकील ने बताया कि इस तरह के केस अक्‍सर सामने आते हैं। हॉवर्ड के पक्ष में कोर्ट ने फैसला दिया। इसी साल, नार्थ कैरोलिना की अदालत ने एक महिला को 9 मिलियन अमरीकी डॉलर का हर्जाना दिलवाया, जिसने अपने पति के प्रेमी पर अपने 33 साल के विवाह को तोड़ने का आरोप लगाया था। उत्तरी कैरोलिना में हर साल "स्नेह के अलगाव" पर आधारित 200 से अधिक केस दायर किए जाते हैं।

Posted By: Arvind Dubey