वैश्विक महामारी Coronavirus के संक्रमण से पूरी दुनिया सकते में है। दुनिया के 180 से ज्यादा देश इस महामारी की चपेट में आ गए हैं। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन WHO ने पहले इसे लेकर ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी लगाई थी बाद में इसे महामारी घोषित किया था। इस घातक वायरस के संक्रमण से बचने के लिए भारत सहित अन्य देशों ने Social Distancing का रास्ता अपनाया है। इसे सख्ती से लागू कराने के लिए राष्ट्रों ने Lockdown घोषित कर दिया है। भारत सरकार ने भी पूरे देश में 21 दिन का लॉक डाउन घोषित कर दिया है। हालांकि WHO का मानना है कि सिर्फ लॉक डाउन करने से ही कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा पूरी तरह से खत्म नहीं किया जा सकता है। इसके लिए देशों को अन्य तरीके से भी लड़ाई लड़नी होगी।

WHO ने कही यह बात

WHO के डायरेक्टर जनरल Tedros Adhanom Ghebreyesus ने बुधवार को एक बयान में कहा कि कई देशों में Lockdown कर दिया गया है लेकिन यह विश्व में इस महामारी को खत्म करने के लिए काफी नहीं है। हमने सभी देशों से कहा है कि लॉक डाउन के इस वक्त का इस्तेमाल कोरोना वायरस से लड़ने के लिए करें। आप लोगों ने अवसर की दूसरी खिड़की खोल ली है। लोगों को घर में रहने के लिए कहना और पॉपुलेशन का मूवमेंट रोकना सिर्फ समय को आगे बढ़ाना और हेल्थ सिस्टम से दबाव कम करना भर है, लेकिन यह Measures महामारी को खत्म नहीं कर सकते हैं।

जेड्रोस ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान इस खतरनाक वायरस से निपटने के लिए नए मेजर्स को खोजना, आइसोलेट, टेस्ट, ट्रीटमेंट और मरीजों की ट्रेसिंग करना ही सबसे बेहतर और तेज तरीका है।

दुनियाभर में 20 हजार से ज्यादा मौतें

कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने के बाद दुनिया के देशों के लिए हर अगला दिन नई मुश्किलें लेकर सामने आ रहा है। इटली, ईरान, स्पेन, ब्रिटेन में इस वायरस से हालात बिगड़ गए थे। हालांकि चीन से शुरू हुए इस वायरस का संक्रमण वहां काबू में आ गया है। दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाले देश भारत में भी यह वायरस तीसरे चरण में पहुंचने की दहलीज पर आ गया है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket