वाशिंगटन। कर्नाटक के बेल्लारी जिले में स्थित हंपी को दुनिया के बेहतरीन पर्यटन स्थलों की सूची में दूसरा स्थान दिया गया है। यूनेस्को की वैश्विक धरोहर सूची में शामिल हंपी 1336 से 1646 तक विजयनगर साम्राज्य की राजधानी था।

तुंगभद्रा नदी के तट पर कई मील तक फैला यह प्राचीन नगर 16वीं शताब्दी के दौरान विश्व के सबसे बड़े और समृद्ध नगरों में शामिल था। अमेरिकी अखबार द न्यूयॉर्क टाइम्स ने दुनियाभर के बेहतरीन पर्यटन स्थलों की इस वर्ष की सूची में कैरेबियाई द्वीप प्यूर्टोरिको को पहला स्थान दिया है। सेंटा बारबरा, पनामा, जर्मनी के म्यूनिख, इजरायल के इलत, जापान के सातोशी, डेनमार्क के अलबोर्ग और पुर्तगाल के अजोरेस को भी इस सूची के शीर्ष दस स्थलों में जगह मिली है।

हंपी का पौराणिक ग्रंथों में भी वर्णन

हंपी में सम्राट अशोक के शासन के दौरान लिखे गए कई शिलालेख भी मिले हैं। इस नगर का जिक्र पौराणिक ग्रंथों में भी है। रामायण के साथ अन्य ग्रंथों में इस शहर को पंपा देवी तीर्थ क्षेत्र बताया गया है। देवी पार्वती को पंपा भी कहा जाता है। माना जाता है कि राम और लक्ष्मण ने यहीं पर हनुमान, सुग्रीव समेत पूरी वानर सेना से मुलाकात की थी।

वास्तुकला के लिए भी मशहूर

इस प्राचीन नगर में कई ऐतिहासिक और धार्मिक धरोहर हैं। यहां 1,600 से भी ज्यादा हिंदू मंदिर, महल, किले और संरक्षित स्मारक हैं। वास्तुकला के लिहाज से ये सारे स्मारक अनोखे हैं। यहां भगवान गणेश के साथ नरसिंह देव के भी मंदिर हैं।