काठमांडू। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स द्वारा सत्यापित दुनिया के सबसे छोटे व्यक्ति खगेंद्र थापा का नेपाल के एक अस्पताल में निधन हो गया। यह जानकारी उनके परिवार ने दी। परिजनों ने बताया कि खगेंद्र थापा का शुक्रवार को निमोनिया के चलते निधन हो गया। वह अपने माता-पिता के साथ रहते थे। उनकी लंबाई 67.08 सेंटीमीटर (2 फीट 2.41 इंच) थी। उनके भाई महेश थापा ने कहा कि निमोनिया के कारण उन्हें काठमांडू से 200 किलोमीटर दूर पोखरा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन इस बार उसका दिल भी प्रभावित हुआ।

खगेंद्र थापा को पहली बार साल 2010 में उनके 18 वें जन्मदिन के बाद दुनिया का सबसे छोटा आदमी घोषित किया गया था। हालांकि, इसके बाद नेपाल के चंद्र बहादुर डांगी ने नाम यह खिताब कर दिया गया था, जिनकी लंबाई 54.6 सेंटीमीटर थी। मगर, साल 2015 में चंद्र बहादुर की मौत के बाद खगेंद्र को दुनिया के सबसे छोटे आदमी का खिताब फिर से मिल गया था।

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के अनुसार, उनके पिता रूप बहादुर ने कहा था कि जब खगेंद्र पैदा हुआ, तो वह इतना छोटा था कि वह हथेली में फिट हो सकता था। यह बहुत कठिन था क्योंकि वह इतना छोटा था। दुनिया के सबसे छोटे आदमी के रूप में खगेंद्र ने 27 साल के अपने जीवन में एक दर्जन से अधिक देशों की यात्रा की और यूरोप और संयुक्त राज्य अमेरिका में टेलीविजन में उनके शो दिखाए गए। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के प्रधान संपादक क्रेग ग्लेनडे ने कहा कि हम नेपाल से यह खबर सुनकर बहुत दुखी हैं कि खगेंद्र अब हमारे बीच नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि जीवन तब और चुनौतीपूर्ण हो जाता है, जब आपका वजह सिर्फ 6 किलोग्राम हो और आप औसत व्यक्ति के लिए बनाई गई दुनिया में फिट नहीं होते हैं। मगर, खगेंद्र ने निश्चित रूप से अपने छोटे आकार की वजह से अपनी जिंदगी को रुकने नहीं दिया। वह नेपाल के पर्यटन अभियान का एक आधिकारिक चेहरा बन गए थे, जिसने उन्हें एक ऐसे देश के सबसे छोटे आदमी के रूप में चित्रित किया, जो दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट के घर में रहते थे।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

fantasy cricket
fantasy cricket