Coronavirus Treatment: कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में पूरी दुनिया साथ खड़ी है। भारत समेत विभिन्न देशों में इसका इलाज खोजने के लिए प्रयोग हो रहे हैं। इस बीच, ऑस्ट्रेलिया से बड़ी खबर आई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, यहां दावा किया गया है कि सिर की जूं मारने की दवा से कोरोना वायरस को 48 घंटों में समाप्त किया जा सकता है। द सन में प्रकाशित रिपोर्ट में मोनाश बायोमेडिसिन डिस्कवरी इंस्टिट्यूट के डॉ. कायली वागस्टाफ का कहना हैं कि जूं मारने के लिए Ivermectin ( इवरमेक्टिन) नामक दवा का उपयोग होता है। हमने पाया है कि इस दवा का एक डोज ही कोरोना वायरस को खत्म कर देता है। दवा लेने के 24 घंटे बाद वायरस का असर खत्म होना शुरू होता है और 48 घंटे में पूरी तरह समाप्त हो जाता है। एंटीवायरल रिसर्च पत्रिका में यह अध्ययन प्रकाशित हुआ है।

मोनाश बायोमेडिसिन डिस्कवरी इंस्टिट्यूट मेलबर्न स्थित मोनाश यूनिवर्सिटी का हिस्सा है। डॉ. कायली वागस्टाफ के अनुसार, कोरोना वायरस की अभी कोई दवा उपलब्ध नहीं है। ऐसे में नई दवा खोजने के बजाए हम उपलब्ध दवाओं का मिश्रण बनाकर उपयोग करें तो लोगों को जल्दी फायदा मिल सकता है। जब तक कोरोना की वैक्सिन नहीं बन जाती, इस तरह इलाज किया जा सकता है। एंटी-पैरासाइटिक दवाएं परजीवी से होने वाली बीमारियों के इलाज में काम आती है। परजीवी रोधी यह दवा एचआइवी, डेंगू, इंफ्लुएंजा और जीका वायरस के खिलाफ पहले ही प्रभावी पाई जा चुकी है।

सरकार कर रही सावधान

कोरोना वायरस को लेकर ऐसे प्रयोग दुनियाभर में चल रहे हैं। सरकारों की ओर से लोगों को सलाह दी जा रही है कि ऐसे किसी प्रयोग के आधार पर खुद निष्कर्ष न निकालें और ना ही अपने मन से कोई दवा लें। खासतौर पर कोरोना वायरस के मामले में कोई भी दवा डॉक्टर से पूछकर ही लेने की सलाह दी जा रही है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना