विश्व में कोरोना के डेल्टा वैरिएंट का कहर तेजी से बढ़ रहा है। यह वैरिएंट अब तक करीब 80 देशों में दस्तक दे चुका है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की प्रमुख विज्ञानी सौम्या स्वामिनाथन ने कहा कि कोरोना के अन्य वैरिएंट के मुकाबले डेल्टा ज्यादा हावी होता जा रहा है, क्योंकि यह तेजी से प्रसार कर रहा है। यह वैरिएंट सबसे पहले भारत में पाया गया था। इसे ज्यादा संक्रामक बताया जाता है। डब्ल्यूएचओ की ओर से गत 15 जून को जारी किए गए साप्ताहिक डाटा के अनुसार, डेल्टा वैरिएंट करीब 80 देशों में पहुंच चुका है। स्वामीनाथन ने शुक्रवार को जिनेवा में पत्रकारों से बातचीत में एक सवाल पर कहा, 'डेल्टा वैरिएंट दुनिया में कोरोना का सबसे प्रबल स्वरूप बनता जा रहा है, क्योंकि इससे संक्रमण का प्रसार तेजी से हो रहा है।' उनके इस बयान से कुछ घंटे पहले ही पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड ने बताया कि ब्रिटेन में बीते एक हफ्ते में डेल्टा वैरिएंट के 33 हजार 630 मामले बढ़ गए। इससे डेल्टा के कुल मामले 75 हजार 953 हो गए हैं। देश में कोरोना संक्रमण के 99 फीसद मामले इसी वैरिएंट के पाए जा रहे हैं। रूस और जर्मनी जैसे देशों में भी इस वैरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं। अमेरिकी स्वास्थ्य एजेंसी सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन की निदेशक रोशेल वेलेंस्की ने कहा कि आने वाले समय में अमेरिका में इस वैरिएंट का प्रकोप बढ़ सकता है। देश में इस वैरिएंट के मामले मिलने लगे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी डेल्टा वैरिएंट को लेकर आगाह किया है। उन्होंने बचाव के तौर पर लोगों से वैक्सीन लगवाने की अपील की है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags