Corona Studies: एक तरफ कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, तो दूसरी तरफ इस वायरस के असर और रोकथाम को लेकर दुनिया भर में नये-नये रिसर्च हो रहे हैं। इसी बीच हाल ही में आई एक स्टडी बताती है कि गर्भवती महिलाओं के लिए वैक्सीन लेना कितना जरुरी है। नेचर मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित हुई एक रिसर्च में वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि प्रेग्नेंसी के वक्त कोरोना से संक्रमित होने पर मां और बच्चे दोनों के लिए गंभीर समस्याएं होने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में अगर प्रेग्नेंट महिला ने संक्रमण से बचने के लिए वैक्सीन नहीं ली है, तो यह उसके बच्चे के लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है।

गर्भ में पल रहे बच्चे को भी खतरा

मेडिकल वैज्ञानिकों के मुताबिक प्रेग्नेंसी के आखिरी हफ्तों में कोरोना संक्रमण होने से मां और बच्चे दोनों की ही जान को खतरा हो सकता है। ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ एडिनबरा के वैज्ञानिकों के मुताबिक डिलीवरी डेट के 28 दिन पहले से प्रेग्नेंट महिलाओं को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। रिसर्च के मुताबिक अगर इस दौरान मां को कोरोना हो गया, तो बच्चा डिलीवरी डेट के पहले ही पैदा हो सकता है या संक्रमण से बच्चे की गर्भ में ही मौत भी हो सकती है। कुछ मामलों में जन्म के बाद भी नवजात बच्चों की मौत हो गई है।

वैक्सीन से बचाव संभव

वैज्ञानिकों के मुताबिक मौजूदा कोरोना वैक्सीन, प्रेग्नेंट महिला और उसके बच्चे को गंभीर समस्याओं से बचाने में कारगर हैं। इनका कहना है कि प्रेग्नेंट महिलाएं जल्द से जल्द वैक्सीन की दोनों खुराक पूरी करें। साथ ही जिनके दो डोज पूरे हो चुके हैं, वे बूस्टर शॉट भी लगवा लें, ताकि बच्चे को पूरी सुरक्षा प्रदान की जा सके। ये सलाह उन महिलाओं के लिए भी है जो प्रेग्नेंसी प्लान कर रही हैं। इनके मुताबिक कोरोना के खिलाफ मौजूदा वैक्सीन्स प्रेग्नेंट महिलाओं और उनके बच्चे के लिए पूरी तरह सुरक्षित हैं, इसलिए वैक्सीन से घबराने की जरुरत नहीं है। रिसर्च के मुताबिक तो कोरोना से हॉस्पिटलाइज हुईं अधिकतर प्रेग्नेंट महिलाएं अनवैक्सीनेटेड पाई गई हैं।

Posted By: Shailendra Kumar