दुनियाभर में कोरोना वायरस का संकट फैला हुआ है और इनमें थाईलैंड भी शामिल है। यहां काफी पहले कोरोना वायरस का संक्रमण फैला था और कई लोगों की जान भी गई। जहां अब भी देश इस संकट से गुजर रहा है वहीं दूसरी तरफ देश के राजा महा वजीरालोंगकोर्न के देश छोड़कर जर्मनी जाने की खबरें हैं। वैसे जर्मनी में भी कोरोना वायरस का कहर बरस रहा है और ऐसे में थाईलैंड के राजा ने खुद को सेल्फ आइसोलेट करने के लिए एक आलीशान होटल चुना है। उनके इस 'सेल्फ आइसोलेशन' की खास बात यह है कि उनके साथ इस होटल में 20 महिलाएं भी रहने वाली हैं। इतना ही नहीं राजा के साथ कई नौकरों के आने की भी सूचना है।

इंटरनेशनल मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, थाईलैंड के राजा ने अपने सेल्फ आइसोलेशन के लिए जर्मनी के अल्पाइन रिसॉर्ट टाउन में स्थित आलीशान होटल Sonnenbichl को चुना है जिसमें उनके साथ 20 महिलाएं और नौकर चाकर हैं। फिलहाल उनकी चार पत्नियों को लेकर कोई जानकारी नहीं है कि वो राजा के साथ है या नहीं। 67 साल के राजा ने इसके लिए विशेष अनुमति भी ली है।

एक जर्मन टेब्लॉइड के हवाले से अंतरराष्ट्रीय मीडिया में आई खबरों में कहा गया है कि राजा ने तो 119 लोगों की टीम बनाई थी साथ ले जाने के लिए लेकिन कोरोना वायरस के कारण उन्हें इन्हे मना करना पड़ा। राजा की मौजूदगी इलाके में चर्चा का विषय है क्योंकि यहां कोरोना वायरस की वजह से इसे बंद रखने के निर्देश दिए गए थे। हालांकि, राजा के लिए इसे विशेष अनुमति दी गई है।

अपने देश के राजा के इस कदम के बाद थाईलैंड के लोगों में रोष है क्योंकि संकट की घड़ी में राजा ने उनका साथ देने की बजाय देश छोड़कर भाग गए। लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं लेकिन थाईलैंड में ऐसा करने वालों को 15 साल की सजा का प्रावधान है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना