US के सीमा शुल्क और सुरक्षा अधिकारियों ने वाशिंगटन डीसी के पास स्थित एक इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भारत से पहुंचे एक यात्री के बैग से गोबर के उपले बरामद हुए हैं। पकड़े जाने के डर से भारतीय यात्री ने उपले वाले बैग को हवाईअड्डे पर ही छोड़ दिया था। अमेरिकी सीमा शुल्क एवं सीमा सुरक्षा (CBP) के अधिकारियों ने बताया कि इन्हें नष्ट कर दिया गया है। आपको बता दें कि अमेरिका में गोबर के उपलों पर प्रतिबंध है। इसकी वजह ये है इससे जानवरों में अत्यधिक संक्रामक मुंहपका-खुरपका रोग (FMD या hoof-and-mouth disease) हो सकता है। अमेरिका में पशुओं के मालिक इस बीमारी से सबसे ज्यादा डरते हैं।

विभाग की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, ‘यह गलत नहीं है। सीबीपी कृषि विशेषज्ञों को एक सूटकेस में से दो उपले बरामद हुए हैं।' CBP के ‘फील्ड ऑपरेशंस' से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि मुंहपका-खुरपका रोग जानवरों को होने वाली एक बीमारी है, जिससे पशुओं के मालिक सबसे ज्यादा डरते हैं। यह सीमा शुल्क एवं सीमा सुरक्षा के कृषि सुरक्षा अभियान के लिए भी एक खतरा है।

वैसे CBP ने कहा कि उपलों को दुनिया के कुछ हिस्सों में एक महत्वपूर्ण ऊर्जा और खाना पकाने का स्रोत भी बताया गया है। इसका इस्तेमाल कथित तौर पर ‘स्किन डिटॉक्सीफायर‘, एक रोगाणुरोधी और उर्वरक के रूप में भी किया जाता है। लेकिन इन कथित फायदों के बावजूद अमेरिका में मुंहपका-खुरपका रोग (FMD या hoof-and-mouth disease) के खतरे के कारण यहां उपले लाना प्रतिबंधित है। इसलिए इसे फौरन नष्ट कर दिया गया।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags