वाशिंगटन डी.सी. में पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने संयुक्त बयान दिया। हैरिस से मुलाकात में प्रधानमंत्री ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान अमेरिका की ओर की गई मदद के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि अमेरिका ने इस दौरान सच्चे मित्र की तरह मदद की। साथ ही कोरोना और जलवायु परिवर्तन के मामले में कदम उठाने के लिए अमेरिका की सराहना की। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने काफी कम समय में अहम उपलब्धियां हासिल की हैं। प्रधानमंत्री आज अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन से व्हाइट हाउस में मुलाकात करेंगे। साथ ही क्वाड (अमेरिका, भारत, जापान एवं आस्ट्रेलिया) शिखर बैठक में हिस्सा लेंगे।

अमेरिकी उप राष्ट्रपति कमला हैरिस ने अपनी तरफ से आतंकवाद में पाकिस्तान की भूमिका का उल्लेख किया और मुल्क से आतंकवादी समूहों का समर्थन बंद करने के लिए कहा। अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस का कहना है कि भारत अमेरिका का बहुत महत्वपूर्ण साझेदार है। मैं भारत की इस घोषणा का स्वागत करती हूं कि वह जल्द ही वैक्सीन निर्यात फिर से शुरू कर पाएगा। यह विशेष रूप से ध्यान देने योग्य और प्रशंसा की बात है कि भारत वर्तमान में एक दिन में लगभग 10 मिलियन लोगों का टीकाकरण कर रहा है। इस मौके पर पीएम मोदी ने कमला हैरिस को कहा, "भारत के लोग आपका स्वागत करने के लिए इंतजार कर रहे हैं। मैं आपको भारत आने का निमंत्रण देता हूं।" अपने बयान में हैरिस ने कहा कि जब भारत ने देश में COVID मामलों की वृद्धि का सामना किया, तो संयुक्त राज्य अमेरिका को भारत के लोगों को टीका लगाने की जिम्मेदारी का समर्थन करने पर गर्व था। COVID-19 पर, हमारे देशों ने मिलकर काम किया है। महामारी की शुरुआत में, भारत अन्य देशों के लिए टीकों का एक महत्वपूर्ण स्रोत था। अपने संबोधन में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, भारत और अमेरिका स्वाभाविक भागीदार हैं। हमारे समान मूल्य, भू-राजनीतिक हित हैं, और हमारा समन्वय और सहयोग भी बढ़ रहा है। उन्‍होंने यह भी कहा कि जब भारत COVID19 की दूसरी लहर की चपेट में था, तब मैं भारत की मदद करने के लिए अमेरिका का आभार व्यक्त करता हूं।

भारत और अमेरिका के बीच लोगों के बीच जीवंत और मजबूत संबंध हमारे दोनों देशों के बीच एक सेतु है, उनका योगदान सराहनीय है। पीएम नरेंद्र मोदी ने यूएस वीपी कमला हैरिस से यह भी कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका के उपराष्ट्रपति के रूप में आपका चुनाव एक महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक घटना रही है। आप दुनिया भर में कई लोगों के लिए प्रेरणा के स्रोत हैं। मुझे विश्वास है कि राष्ट्रपति बिडेन और आपके नेतृत्व में हमारे द्विपक्षीय संबंध नई ऊंचाइयों को छुएंगे।

Posted By: Navodit Saktawat