बीजिंग। ई-कॉमर्स सेक्टर की अलीबाबा जैसी बड़ी कंपनियों को बड़ा झटका लगा है। चीन के नीति निर्माताओं को एक आधिकारिक रिपोर्ट सौंपी गई है, जिसमें कहा गया है कि पिछले साल ऑनलाइन खरीदी गई 58.7 प्रतिशत चीजों की क्वालिटी अच्छी थी, जबकि बाकी 40 प्रतिशत से अधिक प्रोडक्ट घटिया या नकली थे।

रिपोर्ट के अनुसार उपभोक्ताओं के अधिकार और हितों की रक्षा के लिए बने कानून लागू होने के बाद से देशभर में वाणिज्य अधिकारियों को ऑनलाइन ऑर्डर के बारे में 77,800 शिकायतें मिलीं। इस तरह के ऑर्डर संबंधी शिकायतों में 356.6 प्रतिशत का जोरदार इजाफा हुआ।

चीन की सरकार समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक यह रिपोर्ट नीति निर्माताओं की एक समिति को सौंपी गई है, जिसके जरिए ऑनलाइन व्यापार के प्रबंधन में सख्ती की अपील की गई है। रिपोर्ट में कहा गया कि चीन ने पिछले साल दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन रिटेल बाजार (442 अरब डॉलर) के तौर पर अमेरिका (300 अरब डॉलर) को पछाड़ दिया।

रिपोर्ट में वाणिज्य मंत्रालय के हवाले से कहा गया है कि चीन का ऑनलाइन रिटेल कारोबार सालाना 40 प्रतिशत बढ़कर पिछले वर्ष 2,800 अरब युआन (करीब 442 अरब डॉलर) का हो गया। इस दौरान नकली उत्पादों मैन्युफैक्चरिंग और बिक्री इस क्षेत्र के लिए चिंता का विषय रही।

चीन के इंटरनेट नेटवर्क सूचना केंद्र ने बताया कि पिछले पांच वर्षों के दौरान चीन की आर्थिक प्रगति में इंटरनेट की अहम भूमिक रही है। देश की सकल घरेलू उत्पादन (जीडीपी) में इसका 7 प्रतिशत योगदान है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket