बिलासपुर। Railway News: दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन ने तीसरी पर किसान रेल चलाई। नागपुर रेल मंडल के छिंदवाड़ा से आसाम के तिनसुकिया तक चली। इस ट्रेन में बिलासपुर से 9.42 टन पार्सल लोड हुआ है। जबकि रायपुर में 3.6 टन और सर्वाधिक 100 टन छिंदवाड़ा से चढ़ाए गए। बुक पार्सल में ज्यादातर फल व सब्जियां थीं। इन्हीं सामानों की बुकिंग पर रेलवे ने 50 प्रतिशत छूट का भी प्रावधान रखा है।

इस रेल को चलाने के पीछे मुख्य उद्देश्य किसानों की आय दुगनी और उपभोक्ताओं को भी इसका लाभ देना है। 2769 किमी तय करने वाली किसान रेल का परिचालन छिंदवाड़ा से सौसर-इतवारी-भंडाररोड-गोंदिया-रायपुर-खड़गपुर-मालदा माढ से तिनसुकिया तक की गई। रायपुर, छिंदवाड़ा के अलावा दुर्ग से 8.33 टन व इतवारी से 68.43 टन पार्सल बुक हुआ।

इस तरह इस ट्रेन में तीनों रेल मंडल को मिलाकर 189.78 टन पार्सल लदान हुआ। छिंदवाड़ा से तिनसुखिया तक प्याज, संतरे और अन्य सामान का परिवहन करते हुए लंबी दूरी तय करने वाली किसान रेल के माध्यम से कम लागत पर अपनी उपज नए संभावित मार्केट तक भेजने की दिशा में कार्य कर किसानों को लाभान्वित करने का हरसंभव प्रयास किया गया।

जोन में किसान रेल को बेहतर रिस्पांस मिल रहा है। यही वजह है कि आगे भी बीच- बीच में यह ट्रेन चलाने की योजना है। हालांकि दिन व तारीख अभी निर्धारित नहीं है। निर्धारण होने के साथ ही तीनों मंडल को जानकारी दी जाएगी। जिससे की अधिक से अधिक लोडिंग हो सके। माल की लोडिंग अधिक होने से रेलवे की आय बढ़ने के साथ ही किसानों को भी इसका लाभ मिलेगा। गौरतलब है कि इस योजना से अधिक से अधिक किसानों को जोड़ने के लिए विभागीय अधिकारियों को टारगेट दिया जा रहा है।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags