बिलासपुर। Bilaspur Education News: अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय से संबद्ध शिक्षा महाविद्यालयों में इस साल प्रवेश को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है। स्थापना के बाद पहली बार 4400 सीटों के मुकाबले केवल 2300 सीटों में प्रवेश होगा। इसका प्रमुख कारण शहीद नंदकुमार पटेल विश्वविद्यालय रायगढ़ की स्थापना है। यहां के 19 कालेज रायगढ़ के क्षेत्राधिकार में चले गए।

अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय से संबद्ध कुल 44 शिक्षा महाविद्यालय थे। शहीद नंदकुमार पटेल विश्वविद्यालय रायगढ़ की स्थापना के बाद बीएड महाविद्यालयों का भी बंटवारा हो गया। जिसके कारण 2100 सीटें रायगढ़, जांजगीर-चांपा जिले को मिली। जबकि बिलासपुर के पास 25 महाविद्यालयों में 2300 सीटें आई। वहीं छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापम) ने अभी तक प्रवेश परीक्षा का परिणाम जारी नहीं किया है। माडल आंसर और काउंसिलिंग की तिथि भी सार्वजनिक नहीं किया है। जिसके कारण परीक्षार्थी असमंजस में है। गौरतलब है कि 29 अगस्त को प्रवेश परीक्षा समाप्त हो गया। बिलासपुर जिले में 9343 परीक्षार्थियों ने पर्चा हल किया है।

डीएलएड का परिणाम घोषित

छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापम) ने हाल ही में डीएलएड प्रथम वर्ष मुख्य परीक्षा वर्ष 2021 का परिणाम जारी किया है। कुल 6276 परीक्षार्थियों का परिणाम जारी किया गया। वहीं द्वितीय वर्ष मुख्य परीक्षा में कुल 4243 परीक्षार्थी सफल हुए। शिक्षा महाविद्यालयों में इस साल प्रवेश को लेकर मारामारी बचेगी। क्योंकि कोरोना महामारी के बीच भले ही कक्षाएं प्रभावित हुई है लेकिन परीक्षार्थियों का उत्साह कम नहीं हुआ है। यूजीसी व राज्य सरकार द्वारा शिक्षकों की भर्ती में बीएड के महत्व को देखते हुए युवाओं का रूझान भी बढ़ा है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local